• search
उन्नाव न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

उन्नाव रेप पीड़िता का KGMU में चल रहा इलाज, भाजपा दफ्तर पर प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसी गिरफ्तार

|

लखनऊ। उन्नाव दुष्कर्म कांड के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को भाजपा से निलंबित कर दिया गया। वहीं, हाल ही हुए हादसे में घायल दुष्कर्म पीड़िता का केजीएमयू में इलाज चल रहा है। पीड़िता को उसके संबंधियों समेत एक ट्रक ने हाईवे पर टक्कर मार दी थी। जिसके बाद यूपी में सियासत गर्मा गई है। हादसे के पीछे सेंगर को ही जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। कांग्रेस की ओर से हजरतगंज स्थित गाँधी प्रतिमा पर धरना-प्रदर्शन किया जा रहा है।

पुलिस को चकमा देकर भाजपा कार्यालय को घेरा

पुलिस को चकमा देकर भाजपा कार्यालय को घेरा

घंटों चले प्रदर्शन के बाद कांग्रेसी कार्यकर्ता भाजपा कार्यालय का घेराव करने के लिए निकल पड़े। लेकिन सुबह से ही भाजपा के प्रदेश कार्यालय के बाहर और गाँधी प्रतिमा के आस-पास भारी संख्या में पुलिस कर्मी तैनात कर दिए गए। पीएसी के जवानों ने जब कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को बैरिकेडिंग लगाकर रोका तो वह उग्र हो गए। प्रदेश भाजपा मुख्यालय का घेराव तो पुलिस ने नहीं करने दिया लेकिन, पुलिस को चकमा देकर कांग्रेसी भाजपा कार्यालय के ठीक सामने पहुंच गए। इस दौरान कांग्रेसियों की पुलिस से तीखी झड़प हुई। धक्कामुक्की के दौरान पुलिस हल्का बल प्रयोग कर कांग्रेसियों को पकड़कर ले गई। इस दौरान सड़क पर बड़ा जाम लग गया। जिसे पुलिस ने बड़ी मुश्किल से दुरुस्त करवाया।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका के निर्देश पर हुए प्रदर्शन

कांग्रेस महासचिव प्रियंका के निर्देश पर हुए प्रदर्शन

संवाददाता के अनुसार, प्रियंका वाड्रा के निर्देश पर कांग्रेसियों ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन शुरू किए। कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय कुमार लल्लू कुछ कार्यकर्ताओं के साथ रात भर जीपीओ स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने धरने पर बैठे रहे। पार्टी हाईकमान के निर्देश पर सुबह भाजपा प्रदेश मुख्यालय घेरने का कार्यक्रम तय हुआ। मंगलवार सुबह 11 बजे तक कांग्रेस कार्यकर्ता जीपीओ के पास एकत्र हो गए। लगातार नारेबाजी करते रहे। दोपहर 12:20 बजे अचानक कार्यकर्ताओं ने भाजपा कार्यालय की ओर कूच कर दिया। भाजपा कार्यालय से लगभग 50 मीटर पहले पुलिस ने बेरिकेडिंग कर रखी थी। कांग्रेस विधानमंडल दल नेता अजय कुमार लल्लू और उपनेता आराधना मिश्रा सहित तमाम कार्यकर्ता बेरिकेडिंग पर चढ़ गए। पुलिस उनसे जूझती रही तब तक, प्रदेश महामंत्री द्विजेन्द्र राम त्रिपाठी, वीरेंद्र मदान अन्य कार्यकर्ताओं के साथ सड़क पार कर दूसरी तरफ से भाजपा कार्यालय के ठीक सामने पहुंचकर नारेबाजी करने लगे।

पुलिस ने कांग्रेसियों को किया गिरफ्तार

पुलिस ने कांग्रेसियों को किया गिरफ्तार

प्रदर्शन के चलते पुलिस ने तुरंत भाजपा कार्यालय के दरवाजे बंद किए और कार्यकर्ताओं को रोक लिया। इधर, मौका मिलते ही आराधना मिश्रा दूसरी तरफ से भाजपा कार्यालय के सामने पहुंच गईं। जैसे तैसे उन्हें रोका तो कार्यकर्ताओं के साथ बीच रास्ते पर धरने पर बैठ गईं। राष्ट्रीय प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह भी कार्यालय के सामने पहुंच गए। इस पर जबरन कांग्रेसियों को हिरासत में लेकर बसों में ढूंस दिया गया। सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कांग्रेसी यही मांग बुलंद करते रहे कि दुष्कर्म के आरोपित विधायक कुलदीप सेंगर को बर्खास्त करो।

जमकर हुई नारेबारी, पूर्व सांसद सावित्री बाई फुले भी शामिल

जमकर हुई नारेबारी, पूर्व सांसद सावित्री बाई फुले भी शामिल

कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने योगी और मोदी सरकार के खिलाफ हल्ला बोलते हुए जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शन के दौरान कार्यकर्ता मोबाईल से फेसबुक लाइव भी कर रहे थे। कांग्रेसी भाजपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए मामले में आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे। उनका कहना है कि महिला सुरक्षा के मुद्दे पर योगी सरकार पूरी तरह नाकाम साबित हुई है। प्रदर्शन में कांग्रेस के कई बड़े नेता व बहराइच से पूर्व सांसद सावित्री बाई फुले भी शामिल हुई हैं।

पीड़िता का परिवार भी धरने पर बैठा

पीड़िता का परिवार भी धरने पर बैठा

मंगलवार को पीड़िता का परिवार धरने पर बैठ गया और मामले में आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर सख्त कार्रवाई की मांग की। परिवार ने रायबरेली जेल में बंद पीड़िता के चाचा को छोड़ने की मांग की। उनका कहना है कि घर में अब कोई नहीं बचा है। इसलिए उन्हें पैरोल पर बाहर निकाला जाए।

अखिलेश यादव पीड़िता से मिलने ट्रॉमा पहुंचे

अखिलेश यादव पीड़िता से मिलने ट्रॉमा पहुंचे

रायबरेली में सड़क दुर्घटना में हुई मौत के बाद पीड़िता की चाची का शव मॉर्चुअरी में रखा हुआ है और अभी उसका अंतिम संस्कार नहीं हो पाया है। इसके अलावा राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम पीड़िता से मिलने ट्रॉमा सेंटर पहुंची। उधर, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी केजीएमयू पहुंच कर पीड़िता के परिजनों से मुलाकात के बाद विधायक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

पीड़िता 40 घंटे से बेहोश है

पीड़िता 40 घंटे से बेहोश है

उन्नाव दुष्कर्म कांड पीड़िता का इलाज लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर में चल रहा है। पीड़िता की हालत बेहद गंभीर है। वह वेंटीलेटर पर है और हादसे के बाद से ही पिछले करीब 40 घंटे से बेहोश है। उसके सिर, सीने व पैर में कई फ्रैक्चर हैं। ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के लिए लाइफ सपोर्ट का सहारा लिया जा रहा है। फेफड़ों से ब्लीडिंग हो रही है।

पीड़िता के चाचा को पैरोल मिली

पीड़िता के चाचा को पैरोल मिली

उधर, रायबरेली जेल में बंद पीड़िता के चाचा को पैरोल मिल गई है। उन्हें कल (बुधवार) को रायबरेली जिला जेल से पैरोल पर उन्नाव लाया जाएगा और पत्नी का अंतिम संस्कार कर कल फिर वापस रायबरेली जेल भेजा जाएगा।

कुलदीप सेंगर पार्टी से बाहर है: डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा

कुलदीप सेंगर पार्टी से बाहर है: डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा

उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी से कुलदीप सेंगर निलंबित है। जो भी तहरीर मिली, उसपर एफआइआर हुई है। पुराने मामले में सीबीआई की जांच चल रही है। इस प्रकरण में भी सीबीआइ जांच की संस्तुति की गई है। राज्य सरकार सभी तरह की कार्रवाई कर रही है। ट्रक मालिक सपा नेता है। जांच की जा रही है कि घटना कैसे हुई। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने भी बयान दिया कि सेंगर पहले से ही पार्टी से निलंबित थे।

    उन्नाव गैंगरेप पीड़िता का एक्सीडेंट, BJP MLA कुलदीप सेंगर पर आरोप

    अवैध संबंध को छिपाने के लिए महिला ने अपने डेढ़ महीने के बच्चे को गला घोंटकर मारा, पकड़ी गई

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Unnao case LIVE updates: Victim critical but stable, congressi in police custody due to protest
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X