• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

राजस्थानी दुल्हन जो शादी का झांसा देकर करती थी पुरुषों को बर्बाद, फंस गई अपने ही जाल में

|

देवली/टोंक। राजस्थान में पुलिस ने एक ऐसी महिला हवालात भेजा है, जो शादी का झांसा देकर पुरुषों को लूट का शिकार बनाती थी। अब वह खुद पुलिस के हत्थे चढ़ गई है। संवाददाता के अनुसार, पूजा नामक महिला ने भोपाल से आकर एक शख्स से शादी की थी। यह शादी 1.20 लाख रुपए के अनुबंध से हुई थी। शादी के बाद जब सुहागरात की बारी आई तो दुल्हन कहने लगी कि उसके अंदर आत्मा आ गई है। मौका पाकर वह दूल्हे के घर से सामान लेकर भागने लगी और पकड़ी गई। बाद में दुल्हन ने भोपाल के ही एक थाने में दूल्हे के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज करा दिया। जिस पर दूल्हे को तीन महीने जेल हो गई। हालांकि, पुलिस ने जांच-पड़ताल में अब पाया कि, दोष दूल्हे का नहीं, बल्कि दुल्हन का है। वह दुल्हन खुद आधा दर्जन से ज्यादा ठगों के गिरोह का हिस्सा थी।

आत्मा को शरीर में लाने का ढोंगकर सुहागरात से मना किया

आत्मा को शरीर में लाने का ढोंगकर सुहागरात से मना किया

संवाददाता के अनुसार, ठगों के गिरोह ने टोंक जिले के देवली थाना क्षेत्र में देवली गांव में किशनलाल नामक शख्स को जाल में फंसाया। उन लोगों ने किशन की दूसरी शादी करवाने का झांसा देकर 1.20 लाख ठगे। शादी करके दुल्हन जब ससुराल आई तो किशन की मृत पत्नी की आत्मा को शरीर में लाने का ढोंगकर सुहागरात मनाने से इनकार करने लगी। उसके बाद मौका पाकर, खूब सारा सामान लेकर रफ्फूचक्कर हो गई।

अकेले में घर से सामान चुराकर भाग निकली

अकेले में घर से सामान चुराकर भाग निकली

हालांकि, किशनलाल को उसके बारे में पता चल गया और उसे बस स्टैंड से पकड़ लिया। घटना के दूसरे दिन ही महिला फिर घर से बिना बताए भाग छूटी। इस पर किशनलाल ने उसका पीछा किया और फिर पकड़कर घर ले आया। उसने उन लोगों को फोन किया, जिन्होंने पैसे लेकर शादी करवाई थी। किशन की मांग पर उन्होंने 8 दिन बाद आकर अनुबंध राशि लौटा कर महिला को ले जाने की बात कही।

दूल्हा पकड़कर वापस लाया तो जेल करा दी

दूल्हा पकड़कर वापस लाया तो जेल करा दी

वहीं, महिला ने भोपाल में फोन कर अपने साथी के जरिए खुद के अपहरण का मामला दर्ज कराया। जिस पर भोपाल पुलिस देवली गांव आकर किशनलाल को गिरफ्तार कर ले गई। बाद में पुलिस जांच में किशनलाल को निर्दोष पाया। इस पर किशनलाल ने जेल से छूटने के बाद देवली आकर आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज कराया। जिस पर देवली पुलिस ने उक्त ठग महिला को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। जहां उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

..और अंत में खुद ही पकड़ी गई

..और अंत में खुद ही पकड़ी गई

सहायक उपनिरीक्षक रामकुमार ने बताया कि देवली गांव निवासी किशन लाल खटीक ने सिहोर मध्यप्रदेश निवासी पूजा उर्फ रत्ना समेत 7 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। इसमें बताया कि मार्च 2018 में आरोपियों ने संपर्क कर उसे शादी करवाने का झांसा दिया। इसकी एवज में आरोपियों ने सवा लाख रुपए वसूले। साथ ही ₹500 के स्टाम्प पर एग्रीमेंट कराकर पूजा के साथ शादी करवा दी। साथ ही आरोपियों ने कहा कि यदि पूजा किशन के साथ पत्नी के तरीके से नहीं रहती है तो, उसकी अनुबंध राशि लौटाकर महिला को वापस ले जाया जाएगा।

हरियाणा: 33 वर्षीय महिला को पानी पिलाकर बेहोश किया, कार में दुष्कर्म कर वीडियो बनाए, अरेस्ट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The Robber Bride Caught With Gang in rajasthan
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X