• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Satpal Singh : झुंझुनूं में शहीद सतपाल सिंह को आखिरी सैल्‍यूट करने उमड़े लोग, हमले के 10 दिन बाद शहादत

Array
Google Oneindia News

झुंझुनूं, 23 अगस्‍त। जम्‍मू कश्‍मीर के दारहाल इलाके में 11 अगस्‍त को भारतीय सेना के कैंप पर हुए आतंकी हमले में झुंझुनूं जिले के हवलदार सतपाल सिंह भी वीरगति को प्राप्‍त हो गए। अस्‍पताल में उपचार के दौरान दस दिन बाद ये शहीद हुए हैं। मंगलवार को इनके गांव जैतपुरा में अंतिम संस्कार किया गया। शहीद सतपाल के बेटे शांतनु ने उनकी चिता को मुखाग्नि दी। 11 राज राइफल्स के रिटायर्ड जवानों के साथ लोगों ने नारे लगाकर नम आंखों से विदाई दी।

shaheed Satpal Singh

आतंकियों के हमले में करीब 3 घंटे तक आमने-सामने से गोलीबारी होती रही। मौके पर ही 4 जवान शहीद हो गए थे। सतपाल समेत कई जवान घायल हो गए। घायलों को तत्काल आर्मी हॉस्पिटल भेजा गया। करीब 10 दिन इलाज के बाद वो 21 अगस्त को शहीद हो गए।

मुठभेड़ में सतपाल आतंकियों के काफी करीब चले गए थे। इसी दौरान एक गोली उनके सिर में और दूसरी कमर में आ धंसीं। घायल होने के बाद भी वे लड़ते रहे। अपनी बहादुरी से सतपाल और अन्य सैनिकों ने दोनों आतंकियों को अंदर घुसने नहीं दिया। कुछ देर बाद दोनों आतंकियों ने जवानों को ढेर कर दिया।

shaheed Satpal Singh

शहीद की पत्‍नी विंतोष देवी गृहिणी हैं। भारतीय सेना के जवानों ने शहीद के बड़े भाई नायब सुबेदार राजेश कुमार, बेटे शांतनु, भतीजे नीरव को तिरंगा सौंपा। शहीद की 15 साल की बेटी प्रीत 11वीं और बेटा शांतनु (12) नौवीं क्लास में पढ़ रहा है। दोनों बच्चे पिलानी में रहकर पढ़ाई कर रहे हैं। शहीद की माता का नाम बादामी देवी है। वीरांगना विंतोष देवी ने हाथ जोड़कर शहीद पति के अंतिम दर्शन किए। इस दौरान वह बेसुध हो गईं।

Shaheed Shishram Nagaur : पत्नी 8 माह की गर्भवती, फौजी पति शीशराम बांग्लादेश बॉर्डर पर शहीदShaheed Shishram Nagaur : पत्नी 8 माह की गर्भवती, फौजी पति शीशराम बांग्लादेश बॉर्डर पर शहीद

बता दें कि शहीद सतपाल सिंह की अंतिम यात्रा पैतृक गांव जैतपुरा से 4 किलोमीटर पहले कुहाडवास गांव से शुरू हो गई थी। उन्हें अंतिम नमन करने के लिए बड़ी संख्या में लोग आए। बुहाना से मंगलवार सुबह 9 बजे तिरंगा यात्रा के साथ शहीद की पार्थिव देह उनके पैतृक गांव जैतपुरा पहुंची। इससे पहले पार्थिव देह जम्मू कश्मीर से दिल्ली लाई गई थी।

Comments
English summary
shaheed Satpal Singh was cremated in Jaitpura village of Jhunjhunu
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X