• search
राजस्थान न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

Jaisalmer : बॉर्डर एरिया में भारतीय WhatsApp ग्रुप से जुड़े पाकिस्तानी, सुरक्षा में लग सकती है सेंध

|

Jaisalmer News, जैसलमेर। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को केन्द्रीय रिजर्व सुरक्षा बलों के काफिले पर आतंकी हमला करवाने के बाद से पाक की नापाक हरकतें जारी है। 26 फरवरी को पीओके में बालाघाट समेत कई जगहों पर आतंक के अड्डों पर भारतीय वायुसेना की ओर से एयर स्ट्राइक किए जाने के बावजूद पाकिस्तान सुधर नहीं रहा। सीमा पार न केवल लगातार सीज फायर का उल्लंघन कर रहा है बल्कि सुरक्षा में सेंध लगाने से भी बाज नहीं आ रहा।

Jaisalmer SP dr. kiran kang

राजस्थान का एक हजार से अधिक इलाका पाकिस्तान से लगता हुआ है। यहां सरहद पर पाक की ओर से कभी ड्रोन भेजे जा रहे हैं तो कभी सीमा के नजदीक लड़ाकू विमान उड़ाए जा रहे हैं। यही नहीं बल्कि राजस्थान के श्रीगंगानगर, जैसलमेर, बाड़मेर और बीकानेर जिले के सीमावर्ती गांवों के लोगों के मोबाइलों पर कॉल करके भारतीय सेना की लोकेशन तक पूछी जा चुकी है।

पूछताछ में पता चलेगी हकीकत

अब ताजा मामले में पाकिस्तान की ओर से सोशल मीडिया के जरिए भारतीय सीमा की सुरक्षा में सेंध लगाने का प्रयास किया जा रहा है। राजस्थान के जैसलमेर में पाकिस्तानियों की ओर से भारतीय व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़ने का मामला सामने आया है। जैसलमेर पुलिस अधीक्षक डॉ किरण कंग ने बताया कि नाचना गांव के व्यक्ति ने WhatsApp बना रखा है, जिसमें कुछ पाकिस्तानी मेम्बर भी जुड़े हुए हैं। नाचना के उक्त व्यक्ति से इस मामले में पूछताछ कर रहे हैं कि आखिर उसके ग्रुप में पाकिस्तान के लोग किस मकसद से जुड़े हुए हैं।

वीडियो कॉलिंग भी होती बात

शुरुआत जांच में पता चला कि है कि नाचना के व्यक्ति के वाट्सएप ग्रुप में जुड़े पाकिस्तानी मेम्बर का नाम दीवान महाराज खरोड़ा बताया जा रहा है। उससे वीडियो कॉलिंग के जरिए बात होने का भी पता चला है। ब्रेकिंग न्यूज नाम से बनाए गए इस ग्रुप के एडमिन भी नाचना के ही लोग हैं।

अनजान लोगों का नहीं जोड़ें

सलमेर पुलिस अधीक्षक डॉ किरण कंग ने बताया कि भारत-पाकिस्तान के बीच जो माहौल चल रहा है। ऐसे में सुरक्षा के लिहाज से सतर्क रहना जरूरी है। सीमावर्ती इलाके के लोगों को इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि WhatsApp ग्रुप में किसी भी अनजान शख्स नहीं जोड़ें। ना ही किसी अनजान व्यक्ति के ग्रुप में मेम्बर बनें। साथ ही फेसबुक पर भी अनजान व्यक्ति से सम्पर्क नहीं रखें।

राजस्थान के परवेज काठात उरी बॉर्डर पर PAK फायरिंग में शहीद, फौजियों की खान है यह मुस्लिम परिवार

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Pakistani Member joining Indian Whats App Group in the Rajasthan Border area
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X