• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भारत की तरह पाकिस्‍तान भी बाढ़ से परेशान, 200 लोगों की मौत

|

इस्‍लामाबाद। भारत की तरह पाकिस्‍तान भी बाढ़ से खासा प्रभावित है। बाढ़ का सबसे ज्‍यादा असर पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर यानी पीओके में देखने को मिला है। यहां पर अब तक करीब 180 लोगों की मौत हो चुकी है।

पाकिस्‍तान में अब तक भारी बारिश, नदियों में उफान के चलते आई बाढ़ और लैंडस्‍लाइड में अब तक 181 लोग मारे गए हैं और 343 घायल हुए हैं। तस्‍वीरों में देखिए पाक में बाढ़ की वजह से आई तबाही का मंजर।

पाक अधिकारी का बयान

पाक अधिकारी का बयान

पाकिस्तान के डिजास्‍टर मैनेजमेंट आफिसर अहमद कमाल ने बीबीसी को जो जानकारी दी है उसके मुताबिक पंजाब में 101, पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर में 62 और गिलगिट क्षेत्र में भी कई लोग मारे गए हैं।

28,000 लोगों पर खासा असर

28,000 लोगों पर खासा असर

पाक के डिजास्‍टर मैनेजमेंट की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक बाढ़ से अब तक 28 हजार लोग प्रभावित हुए हैं जबकि 16 हजार लोग बेघर हो गए हैं।

600 करोड़ रुपए का नुकसान

600 करोड़ रुपए का नुकसान

पीओके सरकार की ओर से जो जानकारी दी गई है उसके मुताबिक इस आपदा में अब तक करीब 600 करोड़ रुपए का आर्थिक नुकसान पाकिस्‍तान को हो चुका है।

अधिकारियों को डर

अधिकारियों को डर

पीओके में करीब 120 मकान ढह गए हैं। हर तरफ बर्बादी का आलम नजर आ रहा है। सरकारी अधिकारियों की मानें तो इस आपदा की वजह से मरने वालों की संख्‍या में इजाफा हो सकता है।

नीलम और झेलम बनी विनाश की वजह

नीलम और झेलम बनी विनाश की वजह

पाक के विशेषज्ञों के मुताबिक बाढ़ की वजह नीलम और झेलम नदियां हैं जो कश्‍मीर से निकलती हैं। वह मानते हैं कि इस बार की बाढ़ वाकई विनाशकारी है।

उस समय भी नीलम और झेलम ने मचाई थी तबाही

उस समय भी नीलम और झेलम ने मचाई थी तबाही

पीओके में इससे पहले 2010 में नीलम में इस तरह के हालात बने थे। उससे भी पहले 1992 में नीलम में ऐसी बाढ़ देखी गई थी।

झेलम ने उस समय भी मचाई थी तबाही

झेलम ने उस समय भी मचाई थी तबाही

पीओके में मौजूद अधिकारियों की मानें तो नीलम, झेलम और पुंछ में इस बार के हालात 1992 जैसे हैं और इन नदियों का जल स्तर 1992 जैसा ही है।

कम हो रहा है जलस्‍तर

कम हो रहा है जलस्‍तर

पीओके में जहां तक मौसम की बात है तो पिछले दो दिन से बारिश रुकी हुई है। नदियों में भी पानी का स्तर लगातार घटता जा रहा है। लेकिन नीलम, झेलम और पुंछ का जलस्तर अब भी ख़तरे के निशान से ऊपर है।

English summary
More than 200 people died in flood hit Pakistan. Pak is facing worst flood in last 50 years just like India.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X