भारत को जवाब देने के लिए पा‍क और चीन के बीच अब तक की सबसे बड़ी डिफेंस डील

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

बीजिंग। चीन ने आधिकारिक तौर पर इस बात की पुष्टि कर दी है कि उसने पाकिस्‍तान के साथ अब तक की सबसे बड़ी मिलिट्री डील की है। चीन, पाकिस्‍तान को आठ अटैक पनडुब्बियों को देगा जिसे पाक अरब सागर में डेप्‍लॉय कर सकता है।

chinses-submarine-pakistan-deal.jpg
 

पांच बिलियन डॉलर की डील

चाइना शिपबिल्डिंग इंडस्‍ट्री कॉरपोरेशन ने बीजिंग में एक मीटिंग की है जिसमें इस पूरी डील पर चर्चा की गई है। यह डील पांच बिलियन डॉलर की है।  

इसके बारे में इस वर्ष की शुरुआत में पाक की ओर से ऐलान किया गया था। लेकिन उस समय चीन की ओर से कोई पुष्टि नहीं की गई थी।

भारत को चुनौती देना मकसद

पाक का मकसद इन पनडुब्बियों के जरिए हिंद महासागर में भारत की चुनौतियों को कम करना है।

चाइना शिपबिल्डिंग ने 12 अक्‍टूबर को इस डील की सारी डिटेल्‍स की पुष्टि करने के लिए एक मीटिंग की थी। इस मीटिंग में कंपनी के चेयरमैन ह्यू वेनमिंग ने शिरकत की थी।

चीन के शिपबिल्डिंग न्‍यूजपेपर की ओर से एक रिपोर्ट में इसकी जानकारी दी गई थी। बाद में इस रिपोर्ट को चीन की आधिकारिक मिलिट्री वेबसाइट ने प्रमुखता से छापा था।

वर्ष 2023 में पहली खेप

आठ पनडुब्बियों में चार पनडुब्बियां डीजल पावर वाली होंगी और वर्ष 2023 तक पाक को मिल जाएंगे। बाकी चार पनडुब्बियां वर्ष 2028 तक पाक को मिलेंगी।

पनडुब्बियों को पीएलए के टाइप 39ए का वर्जन माना जा रहा है जिसे टाइप 41-यूआन क्‍लास पनडुब्‍बी के तौर पर भी जानते हैं।

300 मीटर की गहराई तक जा सकेगी

यह पनडुब्‍बी 300 मीटर तक की गहराई में रह सकती है और इसमें जो भी हथियार इंस्‍टॉल होंगे वह खासतौर पर पाक की जरूरतों के हिसाब से डिजाइन किए जाएंगे।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
China and Pakistan sign a mega deal for 8 attack submarines.
Please Wait while comments are loading...