देशहित के सामने छोटी-मोटी दिक्कतें नहीं देखनी चाहिए: आमिर खान

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

मुंबई। आमिर खान ने पीएम मोदी के 1000 और 500 के नोट पर बैन के फैसले को समर्थन दिया है। बॉलीवुड अभिनेता का कहना है कि देशहित के सामने छोटी-छोटी दिक्कतें अहमियत नहीं रखतीं।

amir khan

8 नवंबर को पीएम मोदी ने 100 और 500 के नोटों पर बैन की घोषणआ की थी, इसके बाद से पूरे देश में नोट बैन को लेकर चर्चा है। कुछ लोग सरकार के फैसले का समर्थन कर रहे हैं तो विरोध भी खूब हो रहा है।

पीएम मोदी के फैसले पर बॉलावुड के मशहूर अभिनेता आमिर खान ने कहा कि अगर कोई फैसला देशहित को लेकर किया जा रहा है तो पिर उसके छोटे प्रभाव को नहीं देखा जाना चाहिए।

आमिर खान की दंगल का टीजर रिलीज, जानिए क्‍या बोली जनता?

कुछ महीनों पहले देश में असहिष्णुता बढ़ने की बात कहकर हिन्दूवादी संगठनों और भाजपा नेताओं के निशाने पर रहे आमिर खान ने कहा कि हो सकता है इससे मेरी फिल्म को नुकसान हो लेकिन मेरी फिल्म का फायदा-नुकसान देश के सामने कुछ नहीं है।

पीएम के फैसले का विरोध की समर्थन भी

पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार 500 और 1000 के नोट पर बैन की बात कही थी। राष्ट्र के नाम संबोधन में पीएम ने कहा था कि ब्लैक मनी पर प्रहार करने के लिए 1000 के नोट बंद होंगे जबकि 500 के नोट बदले जाएंगे। पीएम ने 1000 और 500 रुपये के मौजूदा करंसी नोटों को 8 नवंबर की रात 12 बजे से बंद करने का ऐलान किया।

पीएम मोदी के कदम को कालेधन पर प्रहार बताते हुए बड़ी संख्या में सेलेब्रिटी और आम जनता ने उनका समर्थन किया है तो वहीं पीएम के फैसले का विरोध भी बहुत हो रहा है। काम छोड़कर लाइन में दिन गुजार रही जनता सरकार को इस फैसले के लिए जमकर कोस रही है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव, बसपा सुप्रीमो मायावती और भाजपा के सहयोगी दल शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने पीएम के फैसले को बचकाना कहते हुए इसकी आलोचना की है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Amir Khan talks about govt decision of scrapping 1000 500 currency notes
Please Wait while comments are loading...