• search
महाराष्ट्र न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

'सामना' में शिवसेना ने पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह का किया समर्थन,लिखा- दिल्ली की खास लॉबी ने की थी शिकायत

|
Google Oneindia News

मुंबई: शिवसेना ने शुक्रवार को अपने मुख पत्र सामना के संपादकीय में मुंबई पुलिस कमिश्‍नर परमबीर सिंह के ट्रांसफर को लेकर उद्धव सरकार पर लग रहे अरोपों पर जवाब दिया है और परमबीर सिंह का बचाव किया है। शिवसेना ने सामना के शुक्रवार को संपादकीय में कहा कि एंटीलिया बम कांड की घटना के संबंध में परमबीर सिंह का स्थानांतरण का मतलब यह नहीं है कि वह गुनहगार हैं।

    Antilia Case: NIA की जांच पर Shivsena ने उठाए सवाल, Digvijay Singh ने भी कसा तंज | वनइंडिया हिंदी
    parambeersingh

    शिवसेना ने ये बयान सामना में ऐसे समय में दिया है जब जब मुकेश अंबानी के घर एंटीनिया के पास 25 फरवरी को विस्फोटक से लदी स्कॉर्पियो कार मिलने के मामले में मुबंई पुलिस के एक अधिकारी सचिन वाजे की कथित संलिप्तता को लेकर परमबीर सिंह पर ट्रांसफर किया गया। कहा जा रहा था कि पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह का तबादला कुछ "गंभीर और उनकी अक्षम्य गलतियों" के कारण हुआ है, जो उनके सहयोगियों द्वारा की गई। पूर्व पुलिस आयुक्त के बारे में शिवसेना ने कहा कि उसके स्थानांतरण का मतलब यह नहीं है कि उन पर कोई दोष सिद्ध हुआ है। परमबीर सिंह को होम गार्ड में एक कम महत्वपूर्ण पद पर स्थानांतरित कर दिया गया था और वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी हेमंत नागराले को नया कमिश्नर बनाया गया था, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने मुंबई के पुलिस अधिकारी सचिन वेज को गिरफ्तार किया था और दावा किया था कि मामले में कई अन्य लोग भी शामिल हैं।

    सुशांत और कंगना केस में पुलिस का मनोबल नहीं टूटने दिया
    सुशांत सिंह राजपूत और कंगना रनौत जैसे प्रकरणों में उन्होंने पुलिस का मनोबल टूटने नहीं दिया। इन मामालों में सीबीआई आई तो भी मुंबई पुलिस की जांच सीबीआई के पास नहीं जा सकी। शिवसेना ने लिखा कि टीआरपी घोटाले की फाइल उन्‍हीं के कार्यकाल में खोली गई। दिल्‍ली की एक विशिष्‍ठ लॉबी का परबीर सिंह पर गुस्‍सा था जो इसी वजह से था।

    दिल्ली की खास लॉबी का हुए शिकार परमबीर सिंह
    दिल्ली में एक लॉबी ने टीआरपी घोटाले के बारे में अनभिज्ञता जताई थी। मामले में एनआईए (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) की जांच के औचित्य की मांग करते हुए, शिवसेना ने पूछा कि इस मामले में आतंकी कोण क्या है। "एनआईए आतंकवाद से संबंधित मामलों की जांच करती है। लेकिन आतंकवाद से कोई संबंध नहीं होने के बावजूद, एजेंसी को मामला सौंप दिया गया है। एनआईए ने उरी हमले, पठानकोट हमले और पुलवामा हमले में क्या किया? इसमें कितने अपराधी पकड़े गए हैं? यह भी एक रहस्य है। जिलेटिन की छड़ें एनआईए के लिए बड़ी चुनौती साबित होती हैं। शिवसेना ने आगे लिखा उनके हाथ कुछ नहीं लगा तो मुंबई में उनके हाथ जेलेटिन की 20 छड़े लग गई जिन छड़ों में धमाका हुए बगैर पुलिस फोर्स में दहशत फैल गई। इसलिए नए मुंबई कमिश्‍नर साहस और सावधानी से काम करना होगा।

    इसके पीछे केवल मकसद महाराष्‍ट्र सरकार को बदनाम करना है
    बता दें 25 फरवरी को एंटीलिया के बाहर एक विस्फोटक से लदी एसयूवी पाई गई। बीस जिलेटिन की छड़ें और एक धमकी भरा पत्र मिला। एसयूवी का पता लगाने के लिए ठाणे स्थित व्यवसायी मनसुख हिरन का पता लगाया गया था, जो घटना के तुरंत बाद मृत पाए गया। इस मामले को एनआईए को सौंपे जाने पर शिवसेना ने लिखा विपक्ष सवाल खड़े कर रहा है लेकिन राज्य का आतंक निरोधी दस्ता इस केस में हत्या का मामला दर्ज करके जांच कर रहा था तभी आनन-फानन में एनआईए ने जांच अपने हाथ में ले ली। शिवसेना ने आगे लिखा इसके पीछे केवल मकसद महाराष्‍ट्र सरकार को बदनाम करना है और इसके अतिरिक्‍त और कोई नेक मकसद नही है।

    कोविड -19 के खिलाफ लड़ाई के लिए पुलिस में जोश निर्माण किया था

    शिवसेना ने आगे लिखा- "सरकार को कुछ विशिष्ट परिस्थितियों में पुलिस में रेजिग करना पड़ता है। परम बीर सिंह को मुंबई पुलिस आयुक्त के पद पर हटाया गया जिसका अर्थ यह नहीं है कि वह दोषी हैं। उन्होंने मुंबई पुलिस कमिश्नर के पद की कमान बहुत कठिन समय के दौरान संभाली। उन्होंने कोविड -19 के खिलाफ लड़ाई के लिए पुलिस में जोश निर्माण किया था। उन्‍होंने प्रतिबद्धता पर भी ध्यान दिया, क्योंकि वे धारावी गए थे। जो पिछले साल कोरोना संक्रमण का एक बड़ा केंद्र था।

    मुंबई पुलिस कमिश्नर को क्यों हटाया गया ? महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने दिया जवाबमुंबई पुलिस कमिश्नर को क्यों हटाया गया ? महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने दिया जवाब

    https://www.filmibeat.com/photos/shalini-pandey-63389.html?src=hi-oiअब ग्लैमरस गर्ल शालिनी पांडे की तस्वीरें हो गई हैं वायरल

    Comments
    English summary
    Shiv Sena in support of former police commissioner Paramvir Singh, said in the face- victim of special lobby of Delhi
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X