• search
मध्य प्रदेश न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

खुलासाः साइको नहीं है Serial Killer , कोर्ट जाते वक्त दिखाने लगा Victory Sign

Google Oneindia News

सागर, 2 सितम्बर। मप्र के सागर में 3 व राजधानी भोपाल में 1 चौकीदार की निर्ममता सेे सिर कुचलकर हत्या करने वाला सीरियल किलर शिवप्रसाद धुर्वे पुलिस की कस्टडी में थाने से कोर्ट ले जाते वक्त मीडिया के सामने विक्ट्री साइन (विजय चिन्ह) दिखा रहा था। उसके चेहरे पर जरा भी मलाल या पछतावा नहीं है। वह बेबाकी से पुलिस अधिकारियों के सवालों के जवाब दे रहा था। सबसे अहम बात वह साइको कतई नहीं है। खुद पुलिस अधीक्षक तरुण नायक ने यह स्पष्ट किया है कि वह सनकी या साइको नहीं है। उसका मानसिक संतुलन दुरुस्त है।

अंगुलियां से विक्ट्री साइन बनाकर दिखा रहा था

अंगुलियां से विक्ट्री साइन बनाकर दिखा रहा था

सागर-भोपाल का कुख्यात सीरियल किलर शिवप्रसाद धुर्वे अपनी गिरफ्तारी के बाद भी दिलेरी दिखा रहा था। पूछताछ के बाद पुलिस जब उसे कोर्ट में पेश करने ले जा रही थी, उस दौरान वह पुलिस की सुरक्षा में गाड़ी के अंदर से बैठा-बैठा दो अंगुलियां से विक्ट्री साइन बनाकर मीडिया के कैमरों को दिखा रहा था। पुलिस ने उसका चेहरा गमछे से बांध रखा था। बावजूद उसकी आंखों में अजीब सी चमक अब भी बरकरार थी। उसे विक्ट्री साइन बनाते देख तुरंत बाजू में बैठे पुलिसकर्मी ने हाथ पकड़कर नीचे कर दिया। हाव-भाव से रत्तीभर भी डर, भय, चिंता, मलाल, रंज, उसके आंखों और चेहरे पर नहीं दिख रहा था।

साइको या सनकी नहीं है सीरियल किलर शिवप्रसाद

साइको या सनकी नहीं है सीरियल किलर शिवप्रसाद

सागर में लगातार हो रही चौकीदारों की हत्याओं के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि यह कोई मानसिक विक्षिप्त, मानसिक रोगी, साइको, सनकी इंसान का काम है, जो निर्दोष लोगों को अपनी जिद और सनक का शिकार बनाकर मौत के घाट उतार रहा है। लेकिन जब वह पकड़ा गया तो समझ आया कि वह न तो साइको है, न ही सनकी या मानसिक रोगी है। उसका दिमागी संतुलन बिलकुल ठीक है। वह सिर्फ फेमस होने के लिए ये हत्याएं कर रहा था। उसे दक्षिण भारत की फिल्म केजीएफ के डाॅन जैसा बनने और रातों-रात फेमस होने का भूत सवार है।

सागर के मृत चौकीदार का मोबाइल चालू किया और रडार पर आ गया

सागर के मृत चौकीदार का मोबाइल चालू किया और रडार पर आ गया

सागर का सीरियल किलर जिसने बीते पांच दिन में एक-एक कर सागर में तीन और भोपाल में एक चौकीदार को मौत की नींद दिया। सीरियल किलर के द्वारा अंजाम दी गईं इन निर्मम हत्याओं के बाद सागर देशभर की निगाहों में आ गया था। बीती रात भोपाल में एक चैकीदार की हत्या करने से पहले सागर के मृतक चौकीदार के मोबाइल को चालू कर अपनी सिम डाली तो वह पुलिस के रडार पर आ गया। सागर पुलिस ने तत्काल यहां से टीम रवाना की थी।

गिरफ्तारी के बाद थाने में बैठा मुस्करा रहा था हत्यारा

गिरफ्तारी के बाद थाने में बैठा मुस्करा रहा था हत्यारा

भोपाल में सागर की पुलिस टीम ने भोपाल पुलिस की मदद से हत्यारे शिवप्रसाद धुर्वे को गिरफ्तार किया था। जब उसे थाने लेकर पहुंचे और उसे वहां बैठा कर पुलिस ने पूछताछ शुरु कि तो वह बड़े आराम से बैठे-बैठे मुस्कराते हुए हंसते हुए पुलिस अधिकारियों के सवालों का जवाब दे रहा था। उसके चेहरे पर कतई सिकन तक नहीं आई थी। उसे यह गुमान ही नहीं है कि उसने चार-चार निर्दोष लोगों को मौत के घाट उतार दिया हैं। मप्र के अलावा पुणे में भी उस पर हत्या व हत्या के प्रयास के दो मामले दर्ज है। 307 के एक मामले में वह जेल में सजा भी काट चुका है।

Serial Killer: फिल्म KGF के रॉकी की तरह DON बनना चाहता था, अगला टारगेट थी पुलिसSerial Killer: फिल्म KGF के रॉकी की तरह DON बनना चाहता था, अगला टारगेट थी पुलिस

Comments
English summary
Revealed: Psycho is not Serial Killer, started showing Victory Sign while going to court
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X