• search
लखनऊ न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

उपचुनाव वाले 8 जिलों में 24 घंटे बिजली देने के आदेश पर बोली सपा- खुल गई योगी सरकार की पोल

|

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में आठ विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं। फिरोजाबाद की टूंडला सीट, रामपुर की स्वार, उन्नाव की बांगरमऊ, जौनपुर की मल्हनी, देवरिया की सदर सीट, बुलंदशहर, कानपुर की घाटमपुर और अमरोहा की नौगावां सादात सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार ने 24 घंटे बिजली देने का दांव खेला है। योगी सरकार ने फिरोजाबाद, उन्नाव, जौनपुर, देवरिया, बुलंदशहर, कानपुर, अमरोहा और रामपुर में बिना कटौती बिजली देने के निर्देश दिए हैं। विद्युत विभाग के इस आदेश का पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो गया जिस पर समाजवादी पार्टी ने कहा कि योगी सरकार की पोल खुल गई है।

    उपचुनाव वाले 8 जिलों में 24 घंटे बिजली देने के आदेश पर बोली सपा- खुल गई योगी सरकार की पोल
    बिजली विभाग का आदेश पत्र सोशल मीडिया में वायरल

    बिजली विभाग का आदेश पत्र सोशल मीडिया में वायरल

    यूपी के बिजली विभाग का आदेश पत्र सोशल मीडिया में वायरल है। इसके मुताबिक, आठ जनपदों में तत्काल प्रभाव से अगले आदेशों तक प्रतिदिन 24 घंटे निर्बाध कटौती मुक्त विद्युत आपूर्ति की अनुमति दी गई है। इन आठ जनपदों में ही वो आठ विधानसभा सीटें हैं जिन पर उपचुनाव होने हैं। इन विधानसभा सीटों में रामपुर की स्वार और जौनपुर की मल्हनी सीट पर भाजपा कभी जीत दर्ज नहीं कर पाई है। समाजवादी पार्टी ने आठ जनपदों में 24 घंटे बिजली देने की घोषणा के बाद योगी सरकार पर हमला बोला है।

    सपा ने बोला हमला

    सपा ने बोला हमला

    समाजवादी पार्टी नेता अभिषेक मिश्रा ने हमला बोलते हुए कहा कि इस घोषणा ने योगी सरकार के निर्बाध बिजली आपूर्ति के दावे की पोल खोल दी है। कहा कि सरकार प्रदेश में बिजली आपूर्ति करने में असफल रही है। समाजवादी पार्टी की सरकार ने बिजली उत्पादन, वितरण, आपूर्ति समेत अन्य चीजों में निवेश किया था और बजट भी दोगुना कर दिया था लेकिन भाजपा सरकार ने विद्युत क्षेत्र में कुछ भी नहीं किया जिससे पूरा सिस्टम ही धराशायी हो गया है। अब उन आठ जिलों में 24 घंटे बिजली देने का आदेश सरकार ने उपचुनाव को देखते हुए जारी किया है। उन्होंने भाजपा सरकार से पूरे प्रदेश में 24 घंटे बिजली देने की मांग की और 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव की बात करते हुए कहा कि जनता अब धर्म और जाति के नाम वोट नहीं देगी, वह सच जान चुकी है।

    इन आठ सीटों पर उपचुनाव

    इन आठ सीटों पर उपचुनाव

    जन्म प्रमाणपत्र में गड़बड़ी मिलने से सपा विधायक अब्दुल्ला आजम की सदस्यता इलाहाबाद हाईकोर्ट ने रद्द कर दी थी जिसके बाद स्वार सीट खाली है। सपा विधायक पारसनाथ यादव के निधन के बाद जौनपुर की मल्हनी सीट खाली हुई थी। यह दोनों सीट भाजपा कभी जीत नहीं पाई है इसलिए यहां पार्टी का जोर ज्यादा है। सपा के लिए भी इन दोनों सीटों पर कब्जा बनाए रखने की चुनौती है। कुलदीप सिंह सेंगर को रेप केस में उम्रकैद मिलने के बाद बांगरमऊ सीट खाली है। डॉक्टर एसपी सिंह बघेल एमपी बने जिसे बाद टूंडला सीट खाली हुई। जनमेजय सिंह के निधन के बाद देवरिया सीट, चेतन चौहान के निधन के बाद नौगांव सादात सीट, कमलरानी वरुण के निधन के बाद घाटमपुर सीट और वीरेंद्र सिंह सिरोही के निधन के बाद बुलंदशहर सीट खाली है।

    यूपी: 5 साल संविदा-50 साल ​में रिटायरमेंट मामले में अखिलेश का योगी सरकार पर हमला, कहा- पराजय छुपाने के लिए...

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    SP criticized on Yogi govt for giving 24 hours electricity in by poll seats districts
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X