• search
जयपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

जयपुर : बारिश की चपेट में आए 130 साल पुराने 2 मगरमच्छ, दोनों का हुआ ये हाल

|

जयपुर। 14 अगस्त 2020 को राजस्थान की राजधानी जयपुर में हुई रिकॉर्ड तोड़ बारिश ने तबाही के कई निशां छोड़े हैं। तीर्थराज गलता जी में मूर्तियां सप्ताहभर बाद तक मिट्टी में दबी रहीं। वहीं, जयपुर के प्रसिद्ध अल्बर्ट हॉल म्यूजियम में पानी घुस गया था, जिससे वहां रखी 2400 साल पुरानी ममी भी खतरे में पड़ गई थी। अब अल्बर्ट हॉल म्यूजियम से एक और खबर आई है।

मगरमच्छों की बॉडी तक पहुंचा पानी

मगरमच्छों की बॉडी तक पहुंचा पानी

खबर है कि जयपुर के अल्बर्ट हॉल म्यूजियम में रखे दो मगरमच्छों की बॉडी भी भारी बारिश की चपेट में आ गई। यहां पर बीते 130 साल से टेक्सीडर्मी के जरिए तहखाने में 12 फीट और 9 फीट लंबे दो मगरमच्छ की बॉडी सुरक्षित रखी हुई है।

Jaipur : बरसाती पानी में डूबते-डूबते बची 2400 साल पुरानी ममी, 130 साल में पहली बार शोकेस से बाहर

 विशेषज्ञों की टीम करेगी जांच

विशेषज्ञों की टीम करेगी जांच

जयपुर में गत 14 अगस्त को हुई भारी बारिश से अल्बर्ट हॉल म्यूजियम के तहखाने में भी पानी भर गया था। इससे वहां मौजूद हजारों पुरातात्विक महत्व वाली महत्वपूर्ण पुरा संपदाओं समेत दोनों मगरमच्छों के शवों को नुकसान पहुंचा है। अब विशेषज्ञों की टीम इनकी जांच करेगी। ताकि मगरमच्छों को पूरी तरह से खराब हाने से बचाया जा सके।

रामगढ़ बांध से किया गया था शिकार

रामगढ़ बांध से किया गया था शिकार

बता दें कि जयपुर में 133 साल पहले 1887 में खुले जयपुर के अल्बर्ट हॉल म्यूजियम में पुरातात्विक महत्व की कई चीजें रखी हुई हैं। जयपुर के रामगढ़ बांध में 130 साल दो मगरमच्छा का शिकार किया गया था। फिर इन मगरमच्छों को टेक्सीडर्मी तकनीक के जरिये संभाल कर रखा गया है। अब बारिश इन तक पहुंचने के कारण मगरमच्छों के शवों को नुकसान पहुंचा है।खाल में फंगस लग गई है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Heavy Rain water reaches two 2 crocodiles kept in Jaipur Albert Hall
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X