• search
जयपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  

IMD Alert: चक्रवाती तूफान ‘महा' के कारण राजस्थान के इन 12 जिलों में भारी बारिश व तबाही की आशंका

|

जयपुर। अरब सागर से उठे चक्रवाती तूफान महा का असर गुजरात, महाराष्ट्र में सबसे अधिक दिखाए देगा, मगर राजस्थान भी इससे अछूता नहीं रहेगा। मौसम विभाग ने तूफान 'महा' को देखते हुए राजस्थान के लिए ओरेंज अलर्ट जारी किया है। प्रदेश के 12 जिले इससे प्रभावित होने की आशंका है। इनमें भारी बारिश व तबाही की आशंका है।

cyclone maha effects on these 12 district of rajasthan

पुष्कर मेला: ये है 1300 KG वजनी भैंसा 'भीम', कीमत 15 करोड़, हर माह डाइट पर खर्च 1.25 लाख, VIDEOपुष्कर मेला: ये है 1300 KG वजनी भैंसा 'भीम', कीमत 15 करोड़, हर माह डाइट पर खर्च 1.25 लाख, VIDEO

मौसम विभाग जयपुर के निदेशक शिवगणेश के अनुसार 6 नवंबर की आधी रात और 7 नवंबर की असुबह एक से पांच बजे के बीच साइक्लोन महा गुजरात के सौराष्ट्र के तटीय इलाकों से टकराएगा। इसके तुरंत बाद राजस्थान के कोटा, उदयपुर और अजमेर संभाग में भी इसका असर दिखाई दे सकता है।

गर्भवती बीवी को अस्पताल लेकर पहुंचा पति, तब जवाब मिला-'इसके पहले भी हो चुके हैं दो बच्चे'गर्भवती बीवी को अस्पताल लेकर पहुंचा पति, तब जवाब मिला-'इसके पहले भी हो चुके हैं दो बच्चे'

ये जिले हो सकते हैं प्रभावित

ये जिले हो सकते हैं प्रभावित

चक्रवाती तूफान महा का सीधा असर सौराष्ट्र व इसके आस-पास के इलाकों में पड़ेगा। सौराष्ट्र के तटीय इलाकों से टकराने के बाद तूफान महा वहीं पर खत्म हो जाएगा, लेकिन इसके बाद बने मौसम की वजह से राजस्थान के भीलवाड़ा, कोटा, बूंदी, झालावाड़, बारां, और उदयपुर, प्रतापगढ़, सिरोही, बांसवाड़ा, राजसमंद, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर में भारी बारिश होने की आशंका है।

पश्चिमी विक्षोभ से भी बारिश

पश्चिमी विक्षोभ से भी बारिश

मौसम विभाग जयपुर के निदेशक शिवगणेश की मानें तो 6-7 नवंबर को राजस्थान में चक्रवाती तूफान महा के साथ पश्चिमी विक्षोभ का असर भी देखने को मिल सकता है। पश्चिमी विक्षोभ के कारण राजस्थान के पश्चिमी इलाकों में बारिश हो सकती है।

जानिए क्या है चक्रवाती तूफान महा

जानिए क्या है चक्रवाती तूफान महा

पूर्व-मध्य अरब सागर के ऊपर सक्रिय भीषण चक्रवाती तूफान को महा नाम दिया गया है। यह गुजरात के तटीय इलाकों की ओर बढ़ रहा है। इसका सबसे ज्यादा असर द्वारका और दीव के बीच स्थित तट पर पड़ेगा, जहां 100 से 120 प्रतिघंटा की गति की हवा के साथ भारी बारिश होने की आशंका है। तूफान से सौराष्ट्र के तटीय जिलों और दक्षिण गुजरात में तूफान के प्रभाव से सामान्य वर्षा और समुद्र में ऊंची लहरें उठ सकती हैं।

सीकर: मुख्य बाजार में घुसे पैंथर को देख दुकानें हुईं बंद, ग्राहकों ने भी भागकर बचाई जानसीकर: मुख्य बाजार में घुसे पैंथर को देख दुकानें हुईं बंद, ग्राहकों ने भी भागकर बचाई जान

English summary
cyclone maha effects on these 12 district of rajasthan
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X