• search
जबलपुर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

OMG CAT: मारना था बिल्ली मर गया बेटा, हंसिया चलाने की घटना जिसने भी सुनी, रह गया हैरान

Google Oneindia News

(OMG CAT) क्या आपने कभी सुना है कि कोई बिल्ली किसी का खून करवा दें या फिर किसी की मौत की वजह बन जाए? रहस्य रोमांच से भरपूर ऐसी स्टोरी फिल्मों में कोई देखे तो भरोसा भी कर लें, लेकिन मप्र के जबलपुर के पास गोटेगांव में सामने आए ऐसे ही मामले पर एक दम से भरोसा नहीं होता। घर में रोजाना धमाचौकड़ी मचाने वाली बिल्ली की वजह से एक बाप हत्यारा बन गया और उसने अपने बेटे की जान ले लीं। आखिर ऐसी नौबत क्यों आई और कोई पिता बिल्ली की वजह से क्या अपने बेटे को मौत के घाट उतार सकता है, यह जानने के लिए इस खबर को पूरा पढ़िए।

सयानी बिल्ली से मंडराया मौत का साया

सयानी बिल्ली से मंडराया मौत का साया

'जुमला है बिल्ली मौसी बड़ी सयानी'..रियल लाइफ में यह मध्यप्रदेश के जबलपुर से करीब 40 किलोमीटर दूर गोटेगांव के नजदीक इलाके में देखने को मिला। जिसकी वजह से नरसिंहपुर जिले के बूढ़ी गांव में रहने वाले केदार पटेल के घर जमकर कोहराम मचा। सयानी बिल्ली से केदार का परिवार कई दिनों से परेशान था। घर का कभी दूध चट कर जाती थी, तो कभी खाने की थाली में मुंह मारती थी। एक तरह से पूरे परिवार का जीना मुहाल हो गया था।

जब खाने की थाली में रखा दूध पिया तो..

जब खाने की थाली में रखा दूध पिया तो..

सयानी बिल्ली से हैरान परेशान केदार के परिवार ने कई उपाय किए, लेकिन एक भी कारगर नहीं रहा। रोज की तरह दीपावली की अगली रात को केदार के लिए उसकी पत्नी पिंकी ने खाने की थाली परोसी। उसमें दूध भी रखा था। हाथ मुंह धोकर केदार जब तक थाली के पास बैठता, उससे पहले बिल्ली धावा बोल चुकी थी। मजे से वह थाली में रखा दूध पी रही थी। यह देख केदार के सब्र के बांध टूट गया।

मारना था बिल्ली, मर गया बेटा

मारना था बिल्ली, मर गया बेटा

बिल्ली से केदार इतना परेशान हो गया कि दिवाली की अगली रात जब उसकी थाली में उसने मुंह मारा, तो वह आगबबूला हो गया। उसके सिर पर खून सवार हो गया। उसने घर में रखा लकड़ी के डंडे में फंसा हंसिया यानि जरया हंसिया उठा लिया। केदार के गुस्से की वजह बिल्ली थी, धारदार हंसिये से अपने 19 साल के बेटे अभिषेक के गले पर दनादन दो वार किए। लहुलुहान अभिषेक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।

पुलिस पहुंची तो केदार ने बताई यह वजह

पुलिस पहुंची तो केदार ने बताई यह वजह

अपने बेटे के क़त्ल का गुनाहगार बन चुके केदार के पास अपना गुनाह छिपाने सिर्फ बिल्ली का ही बहाना था। मौके पर पहुंची पुलिस से केदार ने बताया कि वह बिल्ली को मारना चाह रहा था, लेकिन हंसिया उसके बेटे के सिर पर लगा। जिससे वह बुरी तरह जख्मी हुआ और अभिषेक की मौत हो गई। शुरू में पत्नी पिंकी ने भी केदार की तरह ही कहानी बताई। लेकिन यह बात पुलिस के गले नहीं उतर थी कि बिल्ली पर हमला करते वक्त बेटे अभिषेक को हंसिया कैसे लग सकता है?

एक दिन बाद फिर सामने आई असलियत

एक दिन बाद फिर सामने आई असलियत

बेटे की मौत के लिए जिम्मेदार उसके पिता को पुलिस हिरासत में ले चुकी थी। लेकिन पुलिस उस सच को जानना चाहती थी कि बिल्ली की वजह से अभिषेक अपने पिता के हमले का निशाना क्यों बना? एक दिन बाद दोबारा पुलिस ने आरोपी की पत्नी का बयान लिया तो उसने पूरी सच्चाई उगल दी। पिंकी ने बताया कि जब बिल्ली उसके पति की थाली का दूध पी रही थी, उस वक्त कमरे में अभिषेक टीवी देख रहा था। बिल्ली को लेकर गुस्साएं केदार ने बेटे को बोला कि 'बिल्ली दूध पी रही थी, तूं टीवी देखने में मस्त है...भगा नहीं सकता था..' अभिषेक कुछ समझ पाता, केदार ने उसके गले पर हंसिए से हमला कर दिया।

ये भी पढ़े-तीन आंखों वाली बिल्ली का Video वायरल, लोगों ने पूछा-'क्या कैट में स्पेशल पॉवर है?'ये भी पढ़े-तीन आंखों वाली बिल्ली का Video वायरल, लोगों ने पूछा-'क्या कैट में स्पेशल पॉवर है?'

Comments
English summary
OMG Jabalpur Father's anger on son because of cat hitting by Sickle and took life
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X