• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Air Strike: पाकिस्‍तान को अमेरिका ने भी छोड़ा अकेला, कहा-आतंकियों पर कार्रवाई करो

|

वॉशिंगटन। पाकिस्‍तान पर एयर स्‍ट्राइक के बाद प्रधानमंत्री इमरान खान को अमेरिका से उम्‍मीदें थीं, लेकिन अमेरिका के विदेश विभाग की ओर से आए बयान ने सारी उम्‍मीदों पर पानी फेर दिया है। अमेरिकी विदेश विभाग की ओर से हवाई हमले के बाद बयान जारी किया गया है। इस बयान में अमेरिका ने पाकिस्‍तान को दो टूक कहा है कि वह अपनी सरजमीं पर मौजूद आतंकी संगठनों पर कड़ी और अर्थपूर्ण कार्रवाई करे। 26 फरवरी को इंडियन एयरफोर्स की ओर से खैबर पख्‍तूनख्‍वा के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्‍मद के ठिकानों पर हवाई हमलों को अंजाम दिया गया है।

यह भी पढ़ें-Air Strike: 21 मिनट, 12 जेट, लेसर गाइडेड बम और इजरायल का ड्रोन, ऐसे हुआ पाकिस्‍तान में हमला

पाक को लेना होगा एक्‍शन

पाक को लेना होगा एक्‍शन

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपेयो की ओर से हवाई हमलों के बाद बयान जारी किया गया है। इस बयान में पोंपेयो ने कहा है, 'अमेरिका, भारत और पाकिस्‍तान दोनों को ही संयम बरतने और हर हाल में किसी भी तरह के तनाव से बचने के लिए कहना चाहता हैं।' इसके बाद उन्‍होंने अपने बयान में कहा है, 'पाकिस्‍तान को अपनी सरजमीं पर मौजूद आतंकियों से आकस्मिक स्थिति की तरह निबटना होना होगा।' पोंपेयो ने इसके साथ ही जानकारी दी कि वह भारत और पाकिस्‍तान दोनों देशों के विदेश मंत्रियों से बराबर संपर्क बनाए हुए हैं। उन्‍होंने दोनों देशों के विदेश मंत्रियों से भी आपस में बातचीत करने की सलाह दी है। हमले के बाद पोंपेयो ने विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज से फोन पर बात की थी। यह भी पढ़ें-सिर्फ मिराज 2000 ही नहीं बल्कि सुखोई और मिग भी शामिल थे ऑपरेशन में

मंगलवार को हुए हवाई हमले

मंगलवार को हुए हवाई हमले

मंगलवार को इंडियन एयरफोर्स ने जैश के आतंकी ठिकानों पर हवाई हमले को अंजाम दिया था। जैश की इस कार्रवाई में उसके बालाकोट स्थित ट्रेनिंग सेंटर को निशाना बनाया गया था। यह हवाई हमला 'ठोस इंटेलीजेंस इनपुट्स' के बाद पूरा किया गया था। भारत को इस बात की जानकारी मिली थी कि बालाकोट में जैश अपने ठिकानों पर भारत में और आतंकी हमलों की साजिश में लगा हुआ है। आईएएफ ने जैश के ठिकानों पर मिराज 2000 फाइटर जेट्स की मदद से 1000 किलोग्राम के बम गिराए थे।

पुलवामा हमले के पीछे था जैश का हाथ

पुलवामा हमले के पीछे था जैश का हाथ

जैश के जिस ठिकानें पर हमला हुआ वह घने जंगलों में था और यहां पर चल रहे कैंप्‍स में बड़ी संख्‍या में आतंकी मौजूद थे। इन हमलों में जैश सरगना मौलाना मसूद अजहर का साला और उसके भाई की मौत होने की खबरें हैं। 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ कॉन्‍वॉय पर जो आतंकी हमला हुआ था, उसकी जिम्‍मेदारी जैश ने ही ली थी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
US has asked Pakistan to take meaningful action against terror groups after IAF air strike.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X