• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Raisina Dialogue 2021: भारत ने ‘साउथ-साउथ’ सहयोग पर दिया जोर, वैक्सीन डिस्ट्रीब्यूशन की दुनिया में तारीफ

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, अप्रैल 13: रायसीना डायलॉग-2021 को लेकर भारत सरकार ने 'साउथ-साउथ' कॉर्पोरेशन बढ़ाने की वकालत की है। रायसीना डायलॉग-2021 में बोलते हुए भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने जोर देते हुए कहा है कि 'साउथ-साउथ' कॉर्पोरेशन, मानवीय सहयोग, आपदा के खिलाफ प्रतिरोध के खिलाफ पूरी दुनिया को एक साथ आने की जरूरत है। भारतीय विदेश मंत्री ने कहा कि 'साउथ-साउथ' कॉर्पोरेशन काफी लंबे वक्त से हमारा हिस्सा रहा है।

दुनिया को दो-टूक

दुनिया को दो-टूक

वैश्विक भागीदारी और सहयोग बढ़ाने के लिए हमें ऐसे काल्पनिक शब्दों का सहारा लेना बंद करते हुए वास्तविक स्थिति पर ध्यान देते हुए काम करना चाहिए। आपको बता दें कि विकासशील देशों के बीच सहयोग बढ़ाने के लिए ‘साउथ-साउथ' कॉर्पोरेशन शब्द का इस्तेमाल किया जाता है। पहले साउथ-नॉर्थ शब्द का प्रयोग किया जाता था, लेकिन विकसित देशों के स्वार्थ की वजह से विकासशील देशों ने सहयोग बढ़ाने के लिए साउथ-साउथ शब्द का प्रयोग करना शुरू कर दिया।

83 देशों में भारतीय वैक्सीन

83 देशों में भारतीय वैक्सीन

कोरोना वायरस वैक्सीन की सप्लाई पिछले कई महीनों से भारत कर रहा है। जिसपर बोलते हुए भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा कि ‘महामारी की शुरूआत से पहले से ही भारत विश्व के कई देशों को मानवीय सहायता देता आया है, भारत ने हमेशा दुनिया को आपदाओं में मदद पहुंचाने का काम किया है। भारत शुरू से वास्तविक समस्याओं और चुनौतियों का सामना करता आया है और वसुधैव कुटुंम्बकम ही भारत का ध्येय वाक्य है'। भारतीय विदेश मंत्री ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि भारत ने अभी तक विश्व के 83 देशों में वैक्सीन की मुफ्त में सप्लाई की है। उन्होंने कहा कि अभी तक भारत ने मैत्री पहल के आधार पर 83 देशों में 6 करोड़ 45 लाख वैक्सीन की खुराक मानवीय आधार पर भेजी है।

आपको बता दें कि भारत सरकार अपने मित्र देशों और गरीब देशों तक वैक्सीन पहुंचाने के लिए ‘मैत्री पहल'नाम से मुहिम चला रही है। इस मुहिम के तहत भारत सरकार इस साल जनवरी के महीने से मुफ्त में वैक्सीन पहुंचाने का काम कर रही है।

भारत की राजनीतिक कामयाबी

भारत की राजनीतिक कामयाबी

पिछले महीने संसद में संबोधित करते हुए भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा था कि भारत की वैक्सीन को लेकर चल रही मैत्री पहल की पूरी दुनिया में तारीफ की जा रही है और इससे भारत की अंतर्राष्ट्रीय पहचान और अंतरराष्ट्रीय सद्भावना काफी मजबूत हो रही है। उन्होंने कहा था कि अब तक भारत ने दुनिया के 70 देशों में वैक्सीन पहुंचाने का काम किया है। हालांकि, इस एक और महीने में भारत ने 13 और देशों में वैक्सीन पहुंचाया है और अब 83 देशों में भारतीय वैक्सीन सप्लाई की जा रही है।

रायसीना संवाद 2021

रायसीना संवाद 2021

रायसीना संवाद 13 अप्रैल से 16 अप्रैल तक चलने वाला है। जिसमें 50 सत्रों का आयोजन किया जाएगा। इस संवाद कार्यक्रम में 50 देशों के 150 स्पीकर हिस्सा ले रहे हैं। रायसीना संवाद का यह छठा संस्करण है और कोरोना वायरस की वजह से इसका आयोजन ऑनलाइन किया जा रहा है। भारतीय विदेश मंत्रालय और ऑब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन संयुक्त रूप से इस कार्यक्रम का आयोजन करवाती है। इस कार्यक्रम में रवांडा के राष्ट्रपति पॉल कगामे और डेनमार्क के प्रधानमंत्री मेट्टे फ्रेडरिक्शन इस बार बतौर मुख्य अतिथि हिस्सा ले रहे हैं। वहीं, ऑस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री मरीसे पायने, फ्रांस के विदेश मंत्री जीन वेस ली ड्रायन भी इस संवाद कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे हैं। भारत सरकार द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में इस बार नेपाल, पुर्तगाल, स्लोवेनिया, रोमानिया, सिंगापुर, जापान, इटली, स्वीडन, नाइजीरिया, ऑस्ट्रेलिया, केन्या, मालदीव, चिली, कतर, ईरान और भूटान के विदेश मंत्री भी हिस्सा ले रहे हैं।

कई गुना रफ्तार से बढ़ रहा कोरोना, भारत समेत पूरे दक्षिण एशिया को WHO ने चेतायाकई गुना रफ्तार से बढ़ रहा कोरोना, भारत समेत पूरे दक्षिण एशिया को WHO ने चेताया

English summary
Raisina Dialogue 2021, India has said that during this period of corona virus, India delivered vaccine to 83 countries. India insists on 'South-South' cooperation
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X