• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मेहुल चोकसी को बचाने के लिए लंदन में शुरू हुई कोशिश, वकील ने 4 लोगों के खिलाफ की शिकायत

|

नई दिल्ली, जून 10: लंदन में पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के आरोपी भगोड़े कारोबारी मेहुल चोकसी की कानूनी टीम ने एंटीगुआ और बारबुडा से पड़ोसी देश डोमिनिका में उसके कथित अपहरण की जांच के लिए 'यूनिवर्सल अधिकार क्षेत्र' प्रावधान के तहत मेट्रोपॉलिटन पुलिस से संपर्क किया है, जिसकी जानकारी चोकसी के वकील माइकल पोलाक ने दी है। वकील ने आरोप लगाया है कि मेहुल चोकसी को कथित गर्लफ्रेंड बारबरा जराबिका के घर से उसका अपहरण कियाा गया और फिर नाव के जरिए डोमिनिका ले जाया गया था।

Mehul Choksi

चौकसी के वकील ने इस पूरे मामले को लेकर बताया कि एंटीगुआ और बारबुडा से इसलिए हटा दिया गया था, क्योंकि उनको वहां एक नागरिक के रूप में अपनी नागरिकता और प्रत्यर्पण के मामलों में ब्रिटिश प्रिवी काउंसिल से संपर्क करने का अधिकार हासिल हैं, और यहां ये अधिकार उनके लिए उपलब्ध नहीं हैं। उन्होंने कहा कि अंग्रेजी अदालतों और ब्रिटिश पुलिस के पास ऐसे मामलों की जांच करने का यूनिवर्सल अधिकार क्षेत्र है, जहां भी वे होते हैं।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मीडिया से बातचीत में चोकसी की कानूनी टीम का हिस्सा पोलक ने कहा कि मेट्रोपॉलिटन पुलिस के पास यातना, युद्ध अपराध और नरसंहार की जांच के लिए एक यूनिट है। पोलाक ने कहा कि मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने कहा है कि वे एक जांचकर्ता को यह देखने के लिए भेजेंगे कि क्या हुआ है।

उन्होंने बताया कि प्रक्रिया मेट्रोपॉलिटन पुलिस के पास है और हम उन्हें अपनी जांच करने देंगे। हम कहते हैं कि इस मामले में यातना के सबूत हैं, जिन्होंने चोकसी के अपहरण की परिस्थितियों पर गहन इंवेस्टिगेशन की। लेकिन यह कहने से रोक दिया यह भारतीय एजेंसियों का काम है। उन्होंने कहा कि भारत स्पष्ट रूप से चोकसी को भारत से हटाने की कोशिश करना चाहता है। क्या उसने एक कागज के टुकड़े पर हस्ताक्षर किए थे, जिसमें कहा गया था कि वह पहले से ही वहां है? तथ्य यह है कि डोमिनिका में एक भारतीय विमान इसके तुरंत बाद दिखाता है कि यहां क्या हो रहा था।

इसके साथ ही पोलाक ने आरोप लगाया है कि अपहरण में शामिल लोगों ने अप्रैल में ड्राय रन भी किया था। अपहरण के प्रयास के बारे में बताते हुए पोलाक ने कहा कि बारबरा जबरिका, जिसने 23 मई को चोकसी को अपने एयर बीएनबी आवास में बुलाया उसने विशेष रूप से मालिक से पूछा था कि क्या उस घर के पीछे एक छोटी नाव को डॉक करने के लिए जगह है। जबरिका और प्रोपर्टी के मालिक के बीच बातचीत दिखाते हुए पोलाक ने कहा कि उन्होंने नावों के लिए डॉकिंग जगह के बारे में पुष्टि मिलने के बाद दो आस-पास की प्रोपर्टी को लेने पर चर्चा की थी। पोलाक ने आरोप लगाया कि एक संपत्ति का इस्तेमाल उसके साथ के लोगों ने किया, जो अपहरण टीम का हिस्सा थे।

मेहुल चोकसी कब तक आ जाएगा भारत, विदेश मंत्रालय ने दी जानकारीमेहुल चोकसी कब तक आ जाएगा भारत, विदेश मंत्रालय ने दी जानकारी

वकील ने दावा किया कि अपहरण के तुरंत बाद जबरिका शाम 7.26 बजे एक निजी विमान में एंटीगुआ और बारबुडा से डोमिनिका के लिए रवाना हुई क्योंकि वह जांच से सुरक्षित महसूस कर रही थी। पोलक ने शिकायत में जबरिका के अलावा गुरदीप बाथ, गुरजीत सिंह भंडाल और गुरमीत सिंह का नाम लिया है। बाथ और भंडाल क्रमशः सेंट किट्स और यूके के नागरिक हैं, जबकि सिंह यूके में रहने वाले एक भारतीय नागरिक हैं।

English summary
mehul choksis legal team lawyer approaches metropolitan police in london
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X