• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

तालिबान ने दिल्ली को निशाना बनाने की खबरों का किया खंडन, कहा-कश्मीर भारत का आंतरिक मामला

|

नई दिल्ली। आतंकी संगठन तालिबान ने सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे उन दावों का खंडन किया है जिसमें कहा गया है कि, तालिबान कश्मीर में पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद में शामिल हो सकता है। आधिकारिक बयान में यह साफ कर दिया गया कि तालिबान अन्य देशों के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप नहीं करता है। बता दे कि हाल ही में ऐसी खबरें सामने आई थी कि, तालिबान कश्मीर में आतंक फैलाने के लिए पाकिस्तान के साथ आ सकता है।

Kashmir is India’s internal matter, says Taliban india Pakistan

अफगानिस्तान में इस्लामिक अमीरात के प्रवक्ता सुहैल शाहीन ने सोमवार शाम को ट्वीट कर साफ किया कि, तालिबान के कश्मीर में जारी जिहाद में शामिल होने के बारे में मीडिया में प्रकाशित खबरें गलत हैं। इस्लामिक अमीरात की नीति स्पष्ट है कि यह अन्य देशों के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप नहीं करता है। सोशल मीडिया पर निगरानी रखने वाले अधिकारियों ने दावा किया कि तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने कहा कि कश्मीर विवाद हल होने तक भारत के साथ दोस्ती करना असंभव है।

प्रवक्ता ने यह भी दावा किया था कि काबुल में सत्ता पर कब्जा करने के बाद काफिरों के कश्मीर पर भी कब्जा होगा। उसके इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर नज़र रखने वाले तालिबान अधिकारियों की तरफ से इसका खंडन किया गया है। काबुल और दिल्ली में स्थित राजनयिकों ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया कि तालिबान के प्रवक्ता का स्पष्टीकरण भारत के उस प्रयास के बाद आया है, जिसमें इस रिपोर्ट की पुष्टि करने की कोशिश की गई। इससे पहले भारत ने कहा था कि सोशल मीडिया पोस्ट तालिबान का स्टैंड नहीं है।

भारत सरकार ने कहा कि, सोशल मीडिया पोस्ट नकली थे और उन्होंने तालिबान की स्थिति को प्रतिबिंबित नहीं किया। लेकिन विश्लेषकों ने यह भी रेखांकित किया है कि तालिबान एक अखंड निकाय नहीं है। इसमें भिन्न-भिन्न विचारधाराओं के लोग शामिल हैं। उदाहरण के लिए, इस समूह के पाकिस्तान के राज्यों के साथ अच्छे संबंध हैं, वहीं कुछ ऐसे भी हैं जो एक स्वतंत्र लाइन के पक्ष में हैं। चूंकि अफगान तालिबान का शीर्ष निर्णय लेने वाली संस्था शूरा क्वेटा में स्थित है। हक्कानी नेटवर्क पेशावर में है। दोनों ही पाकिस्तान में हैं। ऐसे में अगर पाकिस्तान के दबाव में इसमें कोई ट्विस्ट आता है तो किसी को आश्चर्यचकित नहीं होना चाहिए।

UP में 31 मई तक बढ़ा Lockdown, जानें आज से क्या खुलेगा क्या रहेगा बंद

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Kashmir is India’s internal matter, says Taliban india Pakistan
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X