• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अप्रवासी भारतीयों की शादी दुनिया में सबसे मजबूत, पाकिस्तान-बांग्लादेश की रिपोर्ट भी अच्छी, देखिए टॉप-20 लिस्ट

|
Google Oneindia News

वाशिंगटन/नई दिल्ली: भारतीय और अमेरिकी जोड़े सबसे सच्चे होते हैं और उनकी शादी सबसे लंबे समय तक टिकती है। एक रिसर्च के दौरान भारतीय-अमेरिकी जोड़ों को लेकर ये खुलासा हुआ है। रिसर्च में कहा गया है कि अमेरिका में रहने वाले भारतीय परिवार शादी को लेकर सबसे सच्चे होते हैं और अमेरिका में रहने वाले भारतीय मूल के लोगों की शादी सबसे लंबे वक्त तक टिकती है। द इंस्टीट्यूट ऑफ फैमिली स्टडीज की तरफ से प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक सभी अप्रवासी परिवार पारिवारिक जिम्मेदारियों को लेकर एक समान स्थिर नहीं होते हैं, जबकि इंडियन अमेरिकन अपनी पारिवारिक जिम्मेदारियों को विश्व में सबसे ज्यादा समझते हैं।

इंडियन अमेरिकन जानते हैं जिम्मेदारी

इंडियन अमेरिकन जानते हैं जिम्मेदारी

रिपोर्ट में कहा गया है कि मूल अमेरिकी लोगों की तुलना में अमेरिका में जाकर बसने वाले परिवार शादी और पारिवारिक जिम्मेदारियों को लेकर ज्यादा जागरूक होते हैं और जब बात इंडियन अमेरिकन्स की शादी को लेकर आती है तो इंडियन अमेरिकन्स की शादी सबसे ज्यादा टिकती है। अमेरिका स्थिति थिंक टैंक की रिपोर्ट में अमेरिका में रहने वाले भारतीयों और विश्व समुदायों को लेकर रिसर्च रिपोर्ट पब्लिश की गई है। इंस्टीट्यूट ऑफ फैमिली रिपोर्ट कहा गया है कि अमेरिका में जाकर बसने वाले 72 प्रतिशत परिवार अभी भी पहली शादी के बंधन में ही बंधे हैं। वहीं, मूल अमेरिकियों की बात की जाए तो 60 प्रतिशत मूल अमेरिकी ही पहली शादी के बंधन में बंधे हुए हैं।

शादी को लेकर धारणा

शादी को लेकर धारणा

रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका में जाकर बसने वाले भारतीय परिवार शादी की जिम्मेदारी को पवित्र बंधन मानते हैं। वहीं, आईएफएस की रिपोर्ट में कहा गया है कि अमेरिका में अभी भी विवाह दर, तलाक दर की तुलना में ज्यादा है। रिसर्च में सामने आया है कि 1000 अप्रवासी लोगों में से 18 से 64 साल के उम्र के अविवाहित लोगों ने अमेरिका में बसने के बाद 59 लोगों ने शादी कि, जबकि अमेरिका में 1000 लोगों पर 39 लोग शादी करते हैं। वहीं, बात तलाक की करें तो अमेरिका के मूल निवासी, अप्रवासियों की तुलना में ज्यादा तलाक लेते हैं। रिसर्च के मुताबिक 18 से 64 साल की उम्र के लोगों में प्रति एक हजार सिर्फ 13 लोग तलाक लेते हैं जबकि मूल अमेरिकियों में यही दर बढ़कर 20 से ज्यादा पहुंच जाता है।

फैमिली स्ट्रक्चर पर रिसर्च

फैमिली स्ट्रक्चर पर रिसर्च

रिसर्च के मुताबिक पारिवारिक जिम्मेदारियों को लेकर सभी अप्रवासी परिवार भी एक समान नहीं हैं। इंडियन अमेरिकन्स पारिवारिक स्थिरता को लेकर विश्व में पहला स्थान रखते हैं। 2019 में अमेरिकन कम्यूनिटी सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक 94 प्रतिशत फर्स्ट जेनरेशन इंडियन माइग्रेट्स अभी भी पहली शादी के बंधन में बंधे हैं और उनके बच्चे भी साथ ही रहते हैं, जैसा कि वो भारत में रहते थे। वहीं, वो भारतीय जिन्होंने वहां जाने के बाद किसी अमेरिकन्स से दूसरी शादी की, उनका प्रतिशत सिर्फ 4 है। वहीं, सिर्फ 2 प्रतिशत ही अप्रवासी भारतीय हैं, जिन्होंने तलाक के बाद दूसरी शादी नहीं की, लेकिन वो अभी भी अपने बच्चों के साथ रहते हैं।

शादी को लेकर टॉप-20 लिस्ट

शादी को लेकर टॉप-20 लिस्ट

रिसर्च में पता चला है कि शादी निभाने के मामले में एशियाई देश बाकी के महाद्वीपों की तुलना में ज्यादा अच्छे हैं। भारत, बांग्लादेश, पाकिस्तान, ताइवान, कोरिया, चीन और जापान के अप्रवासी अपनी शादी को ज्यादा अहमियत देते हैं। रिसर्च के मुताबिक शादी को अहमियत देने वाले देशों की सूची के मुताबिक 1- भारत, 2- बांग्लादेश, 3- पाकिस्तान, 4- ताइवान, 5- कोरिया, 6- चीन, 7- जापान, 8- पोलैंड, 9- ईरान, 10- कनाडा, 11- यूक्रेन, 12- वियतनाम, 13- फिलिपिंस, 14- ब्रिटेन, 15- ब्राजील, 16- जर्मनी, 17- वेनेजुएला, 18- नाइजीरिया, 19- रूस और 20वें नंबर पर मैक्सिको है।

World Happiness Report: फिनलैंड बना विश्व का सबसे खुशनुमा देश, भारत और पाकिस्तान में सबसे ज्यादा दु:खी लोगWorld Happiness Report: फिनलैंड बना विश्व का सबसे खुशनुमा देश, भारत और पाकिस्तान में सबसे ज्यादा दु:खी लोग

Comments
English summary
Indian Americans are the most true fellow in comparison to the rest of the world. Indian immigrants marriage most successful.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X