नॉर्थ कोरिया से डोनाल्ड ट्रंप चाहते हैं युद्ध, लेकिन व्हाइट हाउस में एक शख्स जो किम जोंग से बातचीत पर अड़ा

Posted By: Amit J
Subscribe to Oneindia Hindi

वॉशिंगटन। जहां एक तरफ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप नॉर्थ कोरिया के खिलाफ युद्ध छेड़ने की बात कर चुके हैं वहीं, यूएस स्टेट सेक्रेटरी इस तानाशाही देश से बातचीत के जरिए मामला सुलझाने में लगे हुए। नॉर्थ कोरिया और अमेरिका के बीच तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है। तानाशाह किम जोंग उन और डोनाल्ड ट्रंप के बीच जुबानी जंग अपने चरम पर है।

व्हाइट हाउस में एक शख्स जो किम जोंग से बातचीत पर अड़ा

यूएस स्टेट सेक्रेटरी रेक्स टिलरसन नॉर्थ कोरिया से शांति से निपटने की पूरी कोशिश में लगे हुए हैं। इस बीच टिलरसन ने कहा है कि पहला बम गिरने तक हम उत्तर कोरिया के साथ राजनयिक प्रयास जारी रखेंगे। हालांकि उन्होंने साथ में यह भी कहा है कि ट्रंप ने ही उन्हें ऐसा करने को कहा है।

गौरतलब है कि अमेरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपनी ताकत का प्रदर्शन करने के लिए बिल्कुल भी समय नहीं खराब कर रहे हैं। रविवार को ट्रंप ने USS रोनाल्ड रेगन एयरक्राफ्ट कैरियर और आर्ली बर्क क्लास के दो वॉरशिप को कोरियाई प्रायद्वीप में भेजा है। अमेरिकी एयरक्राफ्ट और वॉरशिप दोनों साउथ कोरिया की मिलिट्री के साथ जुड़ेंगे, इस प्लान में यूएस की स्पेशल फोर्स भी शामिल है। डोनाल्ड ट्रंप के इस निर्णय के बाद दोनों देशों के बीच कोरियाई प्रायद्वीप में युद्ध की आहट तेज हो गई है।

रेक्स टिलरसन पिछले काफी समय से चीन की मदद से नॉर्थ कोरिया के ऑफिशियल्स से बातचीत कर शांति से इस तनाव को खत्म करने की कोशिश कर रहे हैं। टिलरसन इससे पहले भी कह चुके हैं कि वे समझौतों और कूटनीति के आधार पर नॉर्थ कोरिया के साथ गतिरोध को खत्म करने की कोशिश करेंगे।

ट्रंप लगातार नॉर्थ कोरिया के खिलाफ सख्त रवैया अख्तियार करते हुए दिख रहे हैं, लेकिन टिलरसन की नीतियों से लग रहा है कि वे युद्ध जैसा कोई भी माहौल खड़ा नहीं करना चाहते हैं। नॉर्थ कोरिया से निपटने के लिए टिलरसन लगातार कूटनीतिक ढंग से काम कर रहे हैं। हालांकि, डोनाल्ड ट्रंप टिलरसन को नॉर्थ कोरिया पर समय बर्बाद नहीं करने की नसीहत दे चुके हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Donald Trump wants war with North Korea, Rex Tillerson says diplomacy will continue with Kim Jong Un

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.