• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

चीन को बार-बार छेड़ रहा अमेरिका, नैन्सी पेलोसी की यात्रा के 12 दिन बाद फिर ताइवान पहुंचे अमेरिकी सांसद

Google Oneindia News

ताइपे, 14 अगस्तः नैंसी पेलोसी की ताइवान की यात्रा के दो सप्ताह पूरे हुए भी नहीं हैं मगर इस बीच एक बार फिर अमेरिकी सांसदों का एक प्रतिनिधिमंडल ताइवान का दौरा कर रहा है। ये सांसद अमेरिकी वायु सेना के बोइंग सी-40 विमान से ताइवान पहुंचे हैं। इस पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व मैसाचुसेट्स के डेमोक्रेटिक सांसद एड मार्के कर रहे हैं। इसके अलावा प्रतिनिधिमंडल में औमुआ अमाता कोलमैन राडेवेगन, जॉन गारमेंडी, एलन लोवेंथल और डॉन बेयर शामिल हैं।

नैन्सी पेलोसी की यात्रा के 12 दिन बाद पहुंचा प्रतिनिधिमंडल

नैन्सी पेलोसी की यात्रा के 12 दिन बाद पहुंचा प्रतिनिधिमंडल

पेलोसी के दौरे पर चीन ने सख्त आपत्ति जताई थी। लेकिन इसके बाद भी अमेरिकी सांसदों का यह दल पेलोसी की यात्रा के महज 12 दिन बाद चीन की चेतावनी को दरकिनार करते हुए ताइपे पहुंच गया है। ताइवान के एक प्रसारक ने अमेरिकी सरकार के एक विमान के शाम 7 बजे के करीब ताइवान की राजधानी ताइपे में सोंगशान हवाई अड्डे पर उतरने का वीडियो प्रदर्शित किया। इसी विमान में अमेरिका के पांच सांसद सवार थे। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि अमेरिकी सांसदों ने ताइवान पहुंचने पर चीन और आक्रामक रूख अख्तियार कर सकता है।

कल राष्ट्रपति से होगी मुलाकात

कल राष्ट्रपति से होगी मुलाकात

ताइवान में अमेरिकन इंस्टीट्यूट ने बताया कि अपनी दो दिवसीय यात्रा के दौरान यह प्रतिनिधिमंडल अमेरिका-ताइवान संबंधों, क्षेत्रीय सुरक्षा, व्यापार, निवेश और अन्य मुद्दों पर चर्चा करेगा। ताइवान के राष्ट्रपति कार्यालय ने कहा है कि आमेरिकी प्रतिनिधिमंडल सोमवार सुबह साई इंग वेन से मुलाकात करेगा। कार्यालय ने कहा है कि प्रतिनिधिमंडल ऐसे समय पर ताइवान आया है जब चीन का ताइवान के साथ लगातार तनाव बढ़ रहा है। प्रतिनिधिमंडल का आना ताइवान के लिए अमेरिका के समर्थन को दर्शाता है।

ताइवान ने भारत को कहा शुक्रिया

ताइवान ने भारत को कहा शुक्रिया

इस बीच ताइवान ने रविवार को कहा कि वह भारत सहित समान विचारधारा वाले देशों के साथ घनिष्ठ संबंध बनाए रखते हुए अपनी आत्मरक्षा को बढ़ाना जारी रखेगा, ताकि अंतर्राष्ट्रीय व्यवस्था को संयुक्त रूप से नियम-आधारित बनाए रखा जा सके और ताइवान स्ट्रेट में सुरक्षा की रक्षा की जा सके। ताइवान ने कहा कि वह दुनियाभर के देशों के साथ दोस्ताना संबंध बनाए रखने का हकदार है। उसने यह भी कहा कि हाल ही में चीन की ताइवान लक्षित सैन्य मुद्रा ने जानबूझकर ताइवान स्ट्रेट में शाांति और स्थिरता को गंभीर रूप से बाधित किया है।

ताइवान को अपना हिस्सा मानता है चीन

ताइवान को अपना हिस्सा मानता है चीन

ताइवान के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, 'आरओसी (ताइवान) की सरकार भारत समेत 50 से अधिक देशों की कार्यकारी शाखाओं और सांसदों के प्रति आभार व्यक्त करना चाहती है, जिन्होंने सभी पक्षों से संयम बरतने, तनाव कम करने, यथास्थिति को बदलने के लिए एकतरफा कार्रवाई से बचने की अपील की है। गौरलतब है कि चीन, ताइवान को अपना हिस्सा मानता है। वह हमेशा से ताइवान के बाहरी देशों संग किसी तरह के संपर्क पर कड़ा एतराज जताता रहा है। इस बीच ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि चीनी युद्धक विमान सैन्य अभ्यास के समापन के बाद भी ताइवान के समुद्र के आसपास मंडराते दिखे हैं। रविवार को कम से कम 10 चीनी युद्धक विमानों ने ताइवान के आपसपास के क्षेत्र में उड़ान भरी।

ताइवान ने भारत को कहा- थैंक यू दोस्त, ऐसे मुश्किल वक्त में आपके समर्थन से हमें मजबूती मिलेगीताइवान ने भारत को कहा- थैंक यू दोस्त, ऐसे मुश्किल वक्त में आपके समर्थन से हमें मजबूती मिलेगी

Comments
English summary
Another US delegation visits Taiwan again 12 days after Nancy Pelosi's visit
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X