• search
इंदौर न्यूज़ के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
Oneindia App Download

Indore की हवा सुधारने पर मंथन, वाहनों के प्रदूषण की जांच के लिए चलेगा अभियान

Google Oneindia News

प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में वायु प्रदूषण की रोकथाम तथा वायु गुणवत्ता में सुधार के लिये अनेक कारगर कदम उठाये जायेंगे। संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा ने यहां वायु गुणवत्ता सुधार के लिए गठित कार्य योजना कार्यान्वयन समिति की बैठक लेकर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि, वायु प्रदूषण की रोकथाम और वायु गुणवत्ता का सुधार सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसके लिये उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे पराली जलाने पर प्रभावी रोक लगाये। इस संबंध में किसानों को जागरूक करें। वाहनों के प्रदूषण स्तर की नियमित रूप से जांच करें। धूल उड़ने वाले स्थानों को चिन्हित कर पानी के छिड़काओं की व्यवस्था करें। पीयूसी केन्द्रों को सक्रिय करें, जिससे की अधिक से अधिक वाहनों के प्रदूषण स्तर की जांच हो सकें।

indore

पराली जलाने समेत अन्य विषयों पर मंथन

बैठक में कलेक्टर इलैया राजा टी, नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। बैठक में संभागायुक्त डॉ. शर्मा ने वायु गुणवत्ता में सुधार तथा वायु प्रदूषण की रोकथाम के लिये किये जा रहे कार्यों की बिन्दुवार समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि, इंदौर शहर में इस दिशा में प्रभावी कदम उठायें जाये। सभी अधिकारी समन्वित प्रयास करें। उन्होंने कहा कि, पराली जलाने पर प्रतिबंध के आदेश तथा पराली जलाने पर रोक के लिये उपाय लागू किये जायें। किसानों को जागरूक किया जाये। पराली से किसानों को किस तरह आर्थिक पहुंचे उसकी जानकारी किसानों तक पहुंचाई जाये। इसके लिये कार्यशालाएं आयोजित करें।

अन्य विषयों पर भी हुआ मंथन

बैठक में बताया गया कि, सीएंडडी एवं अन्य वेस्ट के संग्रहण एवं निपटान व्यवस्था हेतु 100 टीपीडी का ट्रीटमेंट प्लांट कार्यरत है। वर्तमान में 05 ट्रान्सफर स्टेशन स्थापित है। मलबे को खुले मे एकत्रित करना एवं वाहनों में बिना ढके ले जाने पर प्रतिबन्ध लगाया गया है। शहर में 19 जोनवार ट्रांसफर स्टेशन की निविदा प्रक्रिया पूर्ण होकर प्रस्ताव स्वीकृति हेतु एम.आई.सी में प्रक्रियाधीन है। नगर निगम आयुक्त प्रतिभा पाल ने बताया कि, तंदूर के इस्तेमाल के रोक हेतु जांच टीम का गठन किया गया है। शहर में मेघदूत चौपाटी, स्कीम 140 की चौपाटी को पूर्णतः भट्टी फ्री मार्केट में परिवर्तित किया गया है। वर्तमान में 448 होटल, रेस्टोरेन्ट को भट्टी फ्री किया गया है। वर्तमान में भी यह कार्य निरन्तर जारी है। कुछ जगहों पर रोटी के लिये तंदूर चल रहे है, इन्हें भी वैकल्पिक साधन उपयोग करने की समझाइश दी जाये।

ये भी पढ़े- MP में तेंदुए के बच्चों को बिल्ली का बच्चा समझ बैठे ग्रामीण, गुर्राए तो डरकर भागेये भी पढ़े- MP में तेंदुए के बच्चों को बिल्ली का बच्चा समझ बैठे ग्रामीण, गुर्राए तो डरकर भागे

Comments
English summary
Indore air quality, pollution control, Madhya Pradesh news
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X