नज़रिया- 'वरुण हिंदू हैं तो राहुल क्यों नहीं?''

Posted By: BBC Hindi
Subscribe to Oneindia Hindi

जिस दिन से राहुल गांधी सोमनाथ मंदिर गए हैं, उनके धर्म पर शुरू हुई बहस रुकने का नाम नहीं ले रही है.

बीजेपी ने राहुल पर सोमनाथ मंदिर में रखे ग़ैर-हिंदुओं के रजिस्टर में नाम-पता दर्ज करने का आरोप लगाया. लेकिन कांग्रेस ने इसे फ़र्ज़ी क़रार दिया.

कांग्रेस के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक तस्वीर शेयर की गई जिसके नीचे लिखा था ''सोमनाथ मंदिर में आने वालों के लिए सिर्फ़ एक ही रजिस्टर है और कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने उसी में दस्तखत किए थे. इसके अलावा शेयर की जा रही कोई भी तस्वीर फ़र्ज़ी है. मुश्किल समय में मुश्किल फ़ैसले लेने पड़ते हैं?''

गुजरात चुनाव और मंदिर में राहुल गांधी!

'धर्म का सवाल तो सोनिया से भी पूछा गया था...'

https://twitter.com/INCIndia/status/935847555920936960/photo/1

अमित शाह जैन हैं!

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक प्रेस कॉन्फ़्रेंस में कहा, ''राहुल गांधी आनुवांशिक तौर पर हिंदू हैं.''

कांग्रेस नेता राज बब्बर ने राहुल का बचाव करते हुए कहा, ''अमित शाह जैन हैं. वो एक अलग धर्म है.''

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने एक निजी टीवी चैनल को इंटरव्यू में कहा कि भारतीय जनता पार्टी का इस विवाद से कोई लेना-देना नहीं है.

अमित शाह ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि राहुल गांधी चुनाव ख़त्म होने के बाद भी मंदिर जाते रहेंगे.

चुटिया और तिलक कब दिखाएँगे राहुल गाँधी?

गुजरात में मोदी को टक्कर दे पाएंगे राहुल गांधी?

वरुण हिंदू तो राहुल ग़ैर-हिंदू कैसे?

बीबीसी गुजराती ने इस मसले पर वरिष्ठ पत्रकार प्रशांत दयाल से बात की. प्रशांत कहते हैं, ''कांग्रेस की छवि मुसलमानों की हिमायत करने वाली पार्टी की रही है. जिसका सीधा फ़ायदा हिंदू वोटरों के रूप में भारतीय जनता पार्टी को होता आया है. लेकिन अब कांग्रेस ने भी 'नरम हिंदुत्व' की तरफ़ मुड़ना शुरू किया है तो वोटरों को रोकने के लिए ऐसे विवाद खड़े किए जा रहे हैं.''

प्रशांत दयाल ने सवाल किया ''जो लोग वरुण गांधी को हिंदू मानते हैं वो राहुल गांधी के धर्म पर क्यों सवाल उठा रहे हैं? वरुण और राहुल के दादा एक ही थे. अगर वरुण गांधी हिंदू है तो राहुल ग़ैर-हिंदू कैसे हो सकते हैं?''

वरुण गांधी सुल्तानपुर लोकसभा क्षेत्र से भाजपा के सांसद हैं और उनकी मां मेनका गांधी भी भाजपा सांसद और केंद्रीय मंत्री हैं.

राहुल को प्रमोशन तो कितने बदलेंगे गुजरात के समीकरण?

माता का जयकारा क्यों लगा रहे हैं राहुल गांधी?

वरुण गांधी
Getty Images
वरुण गांधी

सबको रिझाने की कोशिश कर रही है कांग्रेस

राहुल गांधी जल्दी ही कांग्रेस की कमान संभालने वाले हैं. ऐसे में हिंदुओं को रिझाने की उनकी ये कोशिश क्या पार्टी की नीतियों में बदलाव का इशारा है?

इसके जवाब में वरिष्ठ पत्रकार विनोद शर्मा कहते हैं ''कांग्रेस दिखाना चाहती है कि हालांकि उसके लिए मुसलमानों की क़ीमत घटी नहीं, लेकिन पार्टी हिंदुओं के ख़िलाफ़ भी नहीं है.''

हालांकि विनोद शर्मा राहुल गांधी की इस राय से इत्तेफ़ाक रखते हैं कि धर्म एक निजी मामला है. लेकिन वो ये भी मानते हैं कि 'सॉफ्ट हिंदुत्व' की तरफ़ मुड़ने से कांग्रेस को फ़ायदा होगा.

उनके मुताबिक़, ''मुझे आरएसएस के अंदर के लोगों ने बताया कि राहुल गांधी की भरूच सभा में काफ़ी संख्या में हिंदू इकट्ठा हुए थे.''

गुजरात चुनावः पीएम मोदी की इज़्ज़त का सवाल

गुजरात के ख़्वाब में राहुल के लिए अहमद पटेल क्यों ज़रूरी?

गुजरात में दो चरणों में चुनाव होने हैं. 182 सीटों वाली विधानसभा के लिए पहले चरण का मतदान 9 दिसंबर को होगा, जबकि दूसरे चरण में 14 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे. मतगणना 18 दिसंबर को होगी.

अमित शाह का 150+ का दावा, कर पाएगी बीजेपी?

BBC Hindi
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Why Varun is Hindu why not Rahul
Please Wait while comments are loading...

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.