• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts
Oneindia App Download

सुप्रीम कोर्ट से केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को झटका, बंगले के अवैध निर्माण को ध्वस्त करने का आदेश बरकरार

Google Oneindia News

नई दिल्ली, 26 सितंबर। बीजेपी नेता व राज्यसभा सांसद नारायण राणे को सर्वोच्च अदलत से बड़ा झटका लगा है। सुप्रीम कोर्ट से उनके बंगले के अवैध निर्माण मामले में राहत नहीं मिली है। उन्होंने पिछले हफ्ते हाईकोर्ट एक आदेश को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी थी। मामले से जुड़ी उनकी याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी है। वहीं सर्वोच्च अदालत ने कोर्ट ने बॉम्बे हाईकोर्ट के आदेश को सही ठहराते हुए राणे की याचिका खारिज कर दी।

Recommended Video

Union Minister Narayan Rane को Bombay HC से बड़ा झटका, जानें क्या है मामला | वनइंडिया हिंदी | *News
Narayan Rane

सोमवार को उच्चतम न्यायालय ने राणे की याचिका को रद्द करने के साथ बॉम्बे हाईकोर्ट के आदेश को सही माना। हालांकि अदालत ने अपने बंगले के निर्माण को वैध साबित करने के लिए तीन महीने का समय दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि अगर इस अवधि में राणे बंगले के अपने अनधिकृत निर्माण को कानून के दायरे में नहीं ला सकते तो बॉम्बे हाईकोर्ट का फैसला लागू होगा।

बता दें कि पिछले बॉम्बे हाईकोर्ट ने हफ्ते बीएमसी को सांसद राणे के बंगले में चल रहे अवैध निर्माण को ध्वस्त करने का आदेश जारी कर दिया था। ही बीएमसी को आदेश दिया था कि राणे के बंगले में चल रहे अनधिकृत निर्माण को ध्वस्त कर दिया जाए। बंगले में चल रहा निर्माण अवैध साबित होने पर राणे पर हाईकोर्ट ने 10 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया था। इसी आदेश को बाद में राणे ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था। सर्वोच्च अदालत में हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती देते हुए राणे ने एक याचिका दायर की थी। जिसमें बॉम्बे हाईकोर्ट के आदेश को रद्द करने का मांग की गई थी।

 मंगल पर पृथ्वी से पहुंचा 'कचरा'! 50 साल में 7,000 किलो से अधिक वेस्ट, साइंटिस्ट्स ने बताई बड़ी वजह मंगल पर पृथ्वी से पहुंचा 'कचरा'! 50 साल में 7,000 किलो से अधिक वेस्ट, साइंटिस्ट्स ने बताई बड़ी वजह

ये है मामला
राणे ने बॉम्बे हाईकोर्ट में एक याचिका दायर कर केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने बीएमसी के नोटिस को रद्द करने की मांग की थी। राणे ने याचिका में बीएमसी की तरफ से दिए गए नोटिस को अवैध और मूल अधिकारों का उल्लंघन बताया था। नोटिस में बंगले के भूतल और सातवीं मंजिल पर बिना अनुमति अनधिकृत तौर पर बदलाव किए जाने का उल्लेख किया गया। राणे के वकील अमोघ सिंह ने जस्टिस ए सैयद की पीठ के समक्ष याचिका पर शीघ्र सुनवाई की अपील की। जिस पर बॉम्बे हाईकोर्ट ने अवैध निर्माण को लेकर बीएमसी की कार्रवाई पर रोक लगा दी थी।

Comments
English summary
SC dismisses Narayan Rane's plea hc order demolish illegal construction in bungalow upheld
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X