• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सत्यपाल मलिक ने केंद्र के फैसले को ठहराया सही, बोले-फोन पर पाबंदी से जिंदगियां बचीं

|

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने रविवार को केंद्र सरकार के मोबाइल फोन और इंटरनेट में पाबंदी लगाने का बचाव करते हुए इसे सही ठहराया। गवर्नर ने कहा कि ये कदम लोगों की जिंदगियां बचाने के लिए उठाए गए थे। उन्होंने कहा कि 'कश्मीर में पहले से चल रही स्थितियों की वजह से पहले हफ्ते कम से कम 50 लोग मारे गए थे। हमारा दृष्टिकोण ऐसा है कि मानव जीवन का कोई नुकसान नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि 10 दिन टेलीफोन नहीं होंगे। लेकिन हम जल्द ही सब वापस कर देंगे।

Satya Pal Malik defends center decesion to suspension of mobile services in jammu kashmir

सत्‍यपाल मलिक ने आगे कहा कि राज्य में दवाओं की आपूर्ति और जरूरी खाद्य सामग्री की कोई कमी नहीं है। असल में, हमने ईद पर लोगों के घरों में मांस, सब्जियां और अंडे भेजे। उन्होंने आगे कहा कि 10 से 15 दिनों में आपकी राय बदल जाएगी। उन्होंने राज्य में दवाओं की आपूर्ति और जरूरी खाद्य सामग्री की कमी की खबरों पर ये टिप्पणी की। मलिक पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली को अंतिम सम्मान देने के लिए राष्ट्रीय राजधानी में थे। अरुण जेटली को याद करते हुए मलिक ने कहा कि पिछले साल जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल के तौर पर जिम्मेदारी संभालने के लिए जेटली ने उन्हें प्रेरित किया था।

ये भी पढ़ें- जम्मू कश्मीर में प्रतिबंध के विरोध में IAS अधिकारी ने दिया इस्तीफा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Satya Pal Malik defends center decesion to suspension of mobile services in jammu kashmir
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X