• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सचिन पायलट बोले- भारत की अर्थव्यवस्था में मंदी है इसे स्वीकार करना चाहिए

|

जयपुर: आर्थिक मंदी की दौर से गुजर रही भारतीय अर्थव्यवस्था पर कहा है कि हमें स्वीकार करना होगा कि जब अर्थव्यवस्था के आंकड़ों की गणना का फॉर्मूला बदला गया था तो जीडीपी अपने आप 2 प्रतिशत बढ़ गई। लेकिन आंकड़े ये कहते हैं कि इस समय बेरोजगारी सबसे बड़ी समस्या है। मैक्रोइकनॉमिक माहौल को संतुलित करने के लिए ठोस कदम उठाए जाने की जरूरत है।

Sachin Pilot target Modi Govt and said There is slowdown in every sector today

सचिन पायलट ने कहा कि सबसे पहला है कदम स्वीकार करना होना चाहिए इनकार में ही नहीं जीना है। भारत और दुनिया भर के सभी सर्वे कहते हैं कि अर्थव्यस्था खराब स्थिति में है। अगर हमें कोई समस्या है कि तो आलोचना करने के बजाय हमें सकारात्मक सुझाव देना चाहिए। आज हर क्षेत्र में मंदी है, निवेशकों का भरोसा कम हो गया है, एनपीए बढ़ गया है, बैंक लोन नहीं दे रहे हैं, नौकरियां पैदा नहीं हो रही है, फैक्ट्रियां बंद हो गई हैं।

बता दें कि इससे पहरे सचिन पायलट ने कहा था कि देश आर्थिक मंदी से जूझ रहा है। युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है। विकट हालात से निपटने के लिए सरकार को सभी को साथ लेकर इससे उभरने के प्रयास करने चाहिए। उन्होंने केंद्र की सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार को बने हुए 100 दिन हो गए हैं, बेहतर होता कि वह सारे काम छोड़कर नौजनवानों को रोजगार के लिए रणनीति बनानी चाहिए।

Must Read: लगातार 5 दिनों तक बंद रहेंगे बैंक, ATM हो सकता है खाली, कर लें कैश का इंतजाम

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Sachin Pilot target Modi Govt and said There is slowdown in every sector today
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X