• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जम्मू कश्मीर के बच्चे राष्ट्रवादी, उन्हें आरोपित नहीं किया जा सकता: राजनाथ सिंह

|

नई दिल्ली। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू कश्मीर के युवाओं को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में बच्चे राष्ट्रवादी हैं और जो लोग उन्हें गलत दिशा में प्रेरित कर रहे हैं वह गुनहगार हैं। दरअसल हाल ही में चीफ ऑफ डिपेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत ने कहा था कि कश्मीर में बच्चों को कट्टरपंथी बनाया जा रहा है और यह गंभीर चिंता का विषय हैं, जिसके बाद राजनाथ सिंह का यह अहम बयान सामने आया है। राजनाथ सिंह ने यह बयान नेशनल कैडेट कोर्प्स के रिपब्लिक डे कैंप के दौरान दिया है।

जो लोग इन्हें कट्टर बना रहे वह गुनहगार

जो लोग इन्हें कट्टर बना रहे वह गुनहगार

राजनाथ सिंह ने कहा कि जम्मू कश्मीर के बच्चे राष्ट्रवादी हैं , उन्हें किसी भी और रूप में नहीं देखना चाहिए। युवा सिर्फ युवा हैं, कभी कभी उन्हें जिस तरह से प्रेरित किया जाना चाहिए लोग उन्हें उस तरह से प्रेरित नहीं करते हैं। उन्हें गलत दिशा में प्रेरित किया जाता है। लिहाजा बच्चों को आरोपित नहीं करना चाहिए। जो लोग उन्हें गलत दिशा में प्रेरित कर रहे हैं वह गुनहगार हैं। गौरतलब है किक पिछले हफ्ते रायसीना डॉयलॉग 2020 में बोलते हुए जनरल बिपिन रावत ने कहा था कि 10-12 साल के बच्चों को कश्मीर में कट्टरपंथी बनाया जा रहा है, जोकि भयावह है।

कुछ लोग पूरी तरह से कट्टर हो चुके हैं

कुछ लोग पूरी तरह से कट्टर हो चुके हैं

जनरल रावत ने इन लोगों को धीरे-धीरे फिर से कट्टरपंथ से बाहर निकाला जा सकता है। लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं जोकि पूरी तरह से कट्टर हो चुके हैं। इन लोगों को अलग करने की जरूरत है, इन्हें अलग कैंप में ले जाने की जरूरत है। हमारे पास देश में डीरैडिकलाइजेशन कैंप हैं। मैं आपको बताना चाहता हूं कि पाकिस्तान भी यही कर रहा है। ये लोग समझ चुके हैं। इनके आतंकवाद का एक हिस्सा इन्हें ही नुकसान पहुंचा रहा है।

घाटी में हालात सामान्य की ओर

घाटी में हालात सामान्य की ओर

जनरल रावत के बयान का केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी ने भी समर्थन किया था। उन्होंने कहा था कि सेना काफी समय से डीरैडिकलाइजेशन कैंप चला रही है। बता दें कि पिछले वर्ष जम्मू कश्मीर में आर्टिकल 370 को खत्म कर दिया गया था, जिसके बाद से यहां के हालात तनावपूर्ण हो गए थे, हालांकि अब स्थिति सामान्य की ओर लौटने लगी है। लेकिन अभी भी कई अहम नेता नजरबंद हैं और उन्हें खुले में आने की अनुमति नहीं है।

इसे भी पढ़ें- 18 पन्नों का सुसाइड नोट लिख 12वीं के छात्र ने ​लगाई फांसी, चौंकाने वाली है वजहइसे भी पढ़ें- 18 पन्नों का सुसाइड नोट लिख 12वीं के छात्र ने ​लगाई फांसी, चौंकाने वाली है वजह

English summary
Rajnath Singh says Children in Jammu Kashmir are nationalists they can be blamed.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X