• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

एनआरसी पर बोले राजनाथ सिंह- पता होना चाहिए देश में कितने स्वदेशी, कितने विदेशी

|

नई दिल्ली। केंद्रीय रक्षामंत्री ने देश में नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन (एनआरसी) लाए जाने पर कहा है कि आखिर पता तो होना चाहिए देश में कितने नागरिक बाहर के हैं। कर्नाटक के मंगलुरू में राजनाथ सिंह ने कहा, एनआरसी पर मैं कहना चाहता हूं क्या किसी देश को ये नहीं पता होना चाहिए कि कितने नागरिक स्वदेशी हैं, कितने विदेशी हैं? एनआरसी अगर आ भी जाता है तो इसमें क्या परेशानी है?

Maharashtra govt Rs 10 meal, Shiv Bhojan scheme, महाराष्ट्र सरकार की शिव भोजन योजना, 10 रुपए में मिलेगी थाली, Maharashtra, महाराष्ट्र, uddhav thackeray, shiv sena, उद्धव ठाकरे, शिवसेना

राजनाथ सिंह ने कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने को लेकर अपनी सरकार की तारीफ की। उन्होंने कहा, लोग पूछते हैं कि पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) का क्या होगा? भारत की संसद ने पहले ही एक प्रस्ताव पारित कर दिया है कि यह भारत का हिस्सा है। मैंने पहले भी कहा है, जम्मू और कश्मीर का काम पूरा हो गया है। अगर अब पाक के साथ बातचीत होती है, तो वे केवल पीओके पर होंगे।

राजनाथ सिंह लगातार सीएए पर बोल रहे हैं। इससे पहले 22 जनवरी को मेरठ में उन्होंने कहा था कि भारतीय मुसलमान को कोई छू तक नहीं पाएगा। उन्होंने इस बात को नकारा कि अगर एनपीआर और एनआरसी को लाया जाता है तो मुसलमानों को दिक्कत होगी। इस कानून को अब हिन्दू मुस्लिम के नजरिए से देखा जा रहा है। हमारे प्रधानमंत्री धर्म से इतर न्याय की बात करते हैं।

पश्चिम बंगाल विधानसभा में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रस्ताव पास

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Rajnath Singh in Mangaluru NRC citizenship amendment act pok
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X