• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पुलिस के सिरदर्द बनी चोरी हुई बकरी, सांसद फोन कर ले रहे हैं जानकारी

|

रायपुर। छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले में एक बकरी पुलिस के लिए सिरदर्द बनी हुई है। यहां तक की पुलिस ने बकरी को ढूंढ़ने के लिए मुखबिरों को लगा रखा है। इस मामले में सिर्फ पुलिस ही नहीं बल्कि स्थानीय सांसद भी बकरी को लेकर चिंतित हैं। सांसद हर रोज थाने में फोन कर बकरी की तलाश की जानकारी लेते हैं। अब आप सोच रहे होंगे कि, ये बकरी किसी कद्दावर नेता या शख्स की होगी। लेकिन ऐसा नहीं यह बकरी एक साधारण आदिवासी युवक की है। मामला अब अखबारों की सुर्खियां बन गया है।

एक महीने पहले गायब हुई थी बकरी

एक महीने पहले गायब हुई थी बकरी

एक हिंदी दैनिक नई दुनिया में छपी खबर के मुताबिक, राजनांदगांव जिले के सोमनी थाना क्षेत्र के इंदरवानी गांव में कुशल धनकर नाम के एक युवक की एक महीने पहले बकरी चोरी हो गई थी। युवक ने पहले थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। लेकिन मामला आगे ना बढ़ता देख वह राजनांदगांव के एसपी के पास शिकायत करने पहुंचा। इस पूरी प्रक्रिया के दौरान एक महीने का समय बीत गया, लेकिन युवक की बकरी का कहीं पता नहीं चला।

युवक ने सासंद को किया परेशान

युवक ने सासंद को किया परेशान

जब मामले में कोई प्रगति नहीं दिखी तो कुशल ने हारकर स्थानीय एमपी से फोन कर इसकी शिकायत की और अपनी समस्या बताई। बकरी का मालिक रोज सुबह पांच बजे सांसद को फोन करता और बकरी नहीं मिलने की बात याद दिलाता है। रोज आते फोन से परेशान सांसद ने भी थाने में फोन करके थानेदार को बकरी चोरी की रिपोर्ट लिखने और खोजने का फरमान दिया। अब थानेदार की नींद एक बकरी ने उड़ा दी है।

चुनाव से समय सांसद ने बकरी खोजवाने का दिया था आश्वासन

चुनाव से समय सांसद ने बकरी खोजवाने का दिया था आश्वासन

बकरी चोरी की फरियाद करने वाले युवक की कहानी भी रोचक है। लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान राजनांदगांव सांसद संतोष पांडेय की बकरी के मालिक की मुलाकात हुई थी। प्रचार के दौरान पांडेय ने उनको अपना पर्सनल मोबाइल नंबर दे दिया। जिसके बाद संतोष पांडेय सांसद बन गए तो युवक को लगा कि, उसकी परेशानी दूर हो सकती है। उसने संतोष पांडेय को फोन लगाया, पहले बधाई दी, फिर अपनी बकरी चोरी की चिंता जाहिर की। इसके बाद युवक रोज सुबह सासंद को फोन करे लगा।

तीन पुलिस कर्मी ढ़ूूूढ रहे हैं बकरी

तीन पुलिस कर्मी ढ़ूूूढ रहे हैं बकरी

रोज आ रहे फोन के कारण सांसद संतोष पांडेय ने थानेदार बकरी खोजने के निर्देश दिए हैं। इस बकरी को खोजने के लिए थाने के स्टाफ को लगाया गया है। युवक के गांव के आसपास एक एसआइ और दो सिपाही ने पांच से आठ दिन तक पूछताछ की और बकरी को खोजने का प्रयास कर रहे हैं। युवक ने बकरी की कीमत 8 हजार रुपए बताई है। सांसद संतोष पांडेय ने बताया कि अब पीड़ित युवक बकरी नहीं मिलने पर कुछ मुआवजे की मांग कर रहा है।

<strong></strong>बजट 2019: पांच लाख से कम इनकम पर नहीं लगेगा कोई भी टैक्सबजट 2019: पांच लाख से कम इनकम पर नहीं लगेगा कोई भी टैक्स

English summary
rajnandgaon police searching goat of tribal youth in chhattisgarh
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X