• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

लोकसभा चुनाव 2019: बारामूला लोकसभा सीट के बारे में जानिए

|

नई दिल्ली: बारामूला लोकसभा सीट जम्मू और कश्मीर की एक महत्वपूर्ण लोकसभा सीट है। साल 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले ही बारामुला दो बातों को लेकर सुर्ख़ियों में है। पहली यह कि जनवरी में इसे आतंकवादियों से मुक्त क्षेत्र घोषित कर दिया है । जम्मू और कश्मीर पुलिस के मुताबिक, प्रदेश के बारामूला जिले में अब कोई भी सक्रिय आतंकी नहीं हैं। इस बारे में डीजीपी दिलबाग सिंह का कहना है कि लगातार जिला पुलिस और सुरक्षा बलों के काम की बदौलत लंबे अर्से के बाद बारामूला में सक्रिय आतंकी नहीं बचे हैं। हालाँकि उन्होंने कहा कि इसे अभी आतंकवाद मुक्त नहीं कहा जा सकता ।

profile of Baramulla lok sabha constituency

बारामूला लोकसभा सीट का इतिहास

दूसरी यह चर्चा जोरों पर है कि 2010 बैच के आईएस टॉपर शाह फैजल, जिन्होंने हाल ही में नौकरी छोड़ी है, बारामुला से लोक सभा चुनाव लड़ सकते हैं । वैसे तो 35 साल के शाह फैजल कश्‍मीर में कुपवाड़ा जिले के लोलाब घाटी के रहने वाले हैं। लेकिन अब कहा जा रहा है कि वह बारामूला से चुनाव लड़ सकते हैं।ऐसा मन जा रहा है कि वह फारुख अब्‍दुल्‍ला की पार्टी नेशनल कॉन्‍फ्रेंस से चुनाव लड़ेंगे । वैसे 1957 से अब तक के लोकसभा चुनाओं पर नजर डाली जाये तो बारामुला सीट पर ज्यादातर फारुख अब्‍दुल्‍ला की पार्टी नेशनल कॉन्‍फ्रेंस का ही दबदबा रहा है । 1957, 67 और 71 में यहं से कांग्रेस विजयी रही थी । इसके बाद लगातार पांच चुनावों में नेशनल कॉन्‍फ्रेंस ने जीत हासिल की । 91 में आतंकवाद के कारण इस सीट पर चुनाव नहीं हुआ । इसके बाद 96 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने जीत हासिल की । सैफुद्दीन सोज इसी सीट से लोकसभा चुनाव लड़ते थे ।

साल 2014 के लोक सभा चुनाव में यहाँ से पहली बार महबूबा मुफ़्ती की पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) से मुजफ्फर हुसैन बेग जीत कर आए । 72 वर्षीय मुजफ्फर हुसैन बेग हार्वर्ड लॉ स्कूल से पोस्ट ग्रेजुएट हैं । मुजफ्फर हुसैन बेग एक प्रखर वक्ता हैं और संसद के भीतर और बाहर सार्वजानिक मंच से कश्मीर की बात प्रमुखता से रखने के लिए जाने जाते हैं। बारामुला लोकसभा सीट अंतर्गत विधानसभा के 15 क्षेत्र हैं। 1967,1971 में इस सीट से कांग्रेस को जीत मिली। इसके बाद 1977, 1980, 1984,1989, 1998, 1999, 2004, 2009 में नैशनल कांफ्रेंस यहां से जीती। जम्मू और कश्मीर नैशनल कांफ्रेंस के शरीफुद्दीन शारिक 2009 में यहां से जीतकर संसद पहुंचे।

बारामुला में 2014 में कुल मतदाता 1,190,745 थे । इनमें पुरुष मतदाता 624,008 और महिला मतदाता की संख्या 566,737 थी ।2014 में यहाँ कुल 256,249 पुरुष मतदाताओं ने वोट डाले जबकि 209,743 महिला मतदाताओं ने वोट डाले । इस तरह कुल 465,992 मतदाताओं ने वोट डाले । यहां मतदान प्रतिशत 39 फीसदी रहा । ये चुनाव पीडीपी के मुजफ्फर हुसैन बेग ने 29,219 मतों से जीता । उन्हें कुल 175,277 वोट मिले जबकि जेकेएनपीपी के शारद उद-दीन शारिक को 146,058 वोट मिले । अब अगर जम्‍मू कश्‍मीर के आईएएस अफसर शाह फैजल बारामूला से अगला लोकसभा चुनाव लड़ते हैं तो पीडीपी और नेशनल कांफ्रेंस के बीच मुकाबला कांटे का होगा ।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
profile of Baramulla lok sabha constituency
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X