• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पाक के नापाक इरादे, पीओके में कर रहा भारत से युद्ध की तैयारी

|

बेंगलुर। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटने के बाद भारत-पाकिस्तान के रिश्‍ते और तल्ख हो चुके हैं। अंतराष्‍ट्रीय स्तर पर भारत के खिलाफ कश्मीर मसले पर हर ओर मिली हार ने पाकिस्तान की बौखलाहट और बढ़ा दी है। इसी बौखलाहट में आकर वह भारत से जंग की तैयारी कर रहा है।

indian army

पाकिस्तान आर्मी ने चुपचाप पीओके (पाकिस्तान अधिकृत कश्‍मीर) पर अपनी गतिविधि बढ़ा दी है। वहीं बालाकोट हमले से सीख लेते हुए भारतीय सेना इस बार पहले से कहीं ज्यादा सोच समझकर रणनीति बना रही है। जम्मू कश्मीर में संभावित हमले को देखते हुए वहां पर इंडियन आर्मी, वायुसेना और सुरक्षाबल हाईअलर्ट पर हैं।

गोला-बारूद और युद्ध के सामान इकट्ठा कर रहा पाक

पाक आर्मी के विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक, सेना भारत के साथ एक पाकिस्तान छोटे युद्ध की तैयारी कर रहा है। आर्मी के अफसर जम्मू और कश्मीर से अनुच्‍छेद 370 हटाये जाने के बाद से ही पाकिस्ता सेना सैन्य जवाब देने के लिए रणनीति बना रही हैं। पाक मिलिट्री पीओके दाना सेक्टर में तैनात हैं कमांडिंग अफसर जो पीओके दाना सेक्टर में तैनात हैं, उन्होंने बताया कि मौजूदा हालात किसी युद्ध की तैयारी से कम नहीं है। एलओसी के करीब जिस तरह से गोला-बारूद और साजो-सामान इकट्ठा किया जा रहा है, वो तरीका सामान्य नहीं है। हालात से ऐसा लगता है कि युद्ध कभी भी छिड़ सकता है।

ब्रिगेड्स के साथ हैवी आर्टिलरी भी इस इलाकों में पहुंचाई जा रही

पाकिस्तान आर्मी के ही एक अन्य उच्च स्तरीय सूत्र ने बताया है कि एलओसी के हर क्षेत्र में सेना की 6 ब्रिगेड जमा की जी रही हैं। सेना का मुख्य फोकस दाना और बाघ सेक्टर में है, क्योंकि लॉजिस्टिक और रणनीतिक रूप से ये क्षेत्र बेहद अहम हैं। इन ब्रिगेड्स के साथ हैवी आर्टिलरी भी इस इलाकों में पहुंचाई जा रही हैं। सबसे ज्यादा हैवी आर्टिलरी बाघ, लीपा और चंब सेक्टर में भी जुटाई जा रही है। इस्लामाबाद की मिलिट्री और पॉलिटिकल गलियारों में भी यह सुगबुगाहट है कि पाकिस्तान युद्ध की तैयारी में जुट गया है।

neelum

पीओके के पास नीलम नदी पर पाक फौज का जमावाड़ा

पाक फौज के एक उच्च स्तरीय अफसर ने बताया कि कब युद्ध शुरू हो जाएगा, यह कहना मुश्किल है। पर यह तय है कि भारत और पाकिस्तान की सेनाएं युद्ध के लिए तैयार हैं। यह भी तय है कि जो कुछ भी होना है वह सितंबर से अक्टूबर के बीच ही होना है। क्योंकि फिर बर्फ पड़नी शुरू हो जाएगी और युद्ध लड़ना असंभव हो जाएगा। पाक सेना का मानना है कि बर्फ पड़ने से पहले भारत उन्हें नीलम नदी से पीछे धकेलना चाहता है। फिर अगली गर्मी तक के लिए दोनों सेनाओं का यह स्टैंड-स्टिल पोजीशन बन जाएगा। अगर ऐसा होता है तो सेना हर हालत में इसे रोकेगी। पाक अधिकृत कश्मीर के पास नीलम नदी है। पाक फौज का जमावाड़ा इसी इलाके में हो रहा है।

पाक फौज की साजिश: भारतीय सेना नीलम पार करे

एलओसी पर तैनात सेना के एक अफसर ने बताया कि फौज का फोकस इस बात पर है कि किसी उकसावे में भारतीय सेना अक्टूबर से पहले नीलम नदी पार कर ले। यदि ऐसा होता है तो बर्फबारी के बाद पोजीशन को होल्ड करना भारतीय सेना के लिए महंगा पड़ सकता है। ऐसे में अगर वे पीछे हटते हैं या नहीं, दोनों ही सूरत में नुकसान भारत का ही होगा। पहले एक पोस्ट पर एक ट्रक एम्युनिशन काफी होता है पर दो पहले ही पहुंच चुके हैं।

पाकिस्तानी जानकार कह रहे- सेना युद्ध के लिए तैयारी शुरू कर चुकी है

21 अगस्त को मीडिया को दिए साक्षात्कार में इमरान खान ने कहा था कि अब भारत से बात करने का कोई तुक नहीं बनता है। पाक के सैन्य और सामरिक विशेषज्ञों का मानना है कि इमरान के बयान से यह कहा जा सकता है कि पाक सेना अब वार्ता नहीं, युद्ध की तैयारी कर रही। मीडिया सूत्रों के अनुसार पाकिस्तान के नामी पत्रकार नुसरत जावेद कहते हैं कि पाकिस्तान आगे बढ़कर मामले को तूल नहीं देगा और रणनीति के अनुसार भारत के एडवेंचर को सहने की कोशिश करेगा। ताकि उसे कम नुकसान हो। उन्होंने कहा कि फौज काम शुरू कर चुकी है। पाक इस बार डिफेंसिव नहीं होगा, क्योंकि समझौते और दस्तावेज अब बेकार हो चुके हैं।

indian army

बाजवा ने कहा हमारी सेना पूरी तरह तैयार है

इस बीच, पाकिस्तान के चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ जनरल कमर जावेद बाजवा ने कहा है कि उनकी सेना भारत की गतिविधियों पर नजर रखे हुए है। भारत के किसी भी हमले का जवाब देने के लिए हमारी सेना पूरी तरह तैयार है। बाजवा ने यह बात शनिवार को गिलगिट में सेना मुख्यालय के दौरे पर कहीं।

बता दें पाकिस्तान की इमरान सरकार ने 19 अगस्त को ही बाजवा का कार्यकाल तीन साल के लिए बढ़ा दिया था। कार्यकाल बढ़ाने से इमरान की विपक्षी दलों ने जमकर आलोचना की थी और कहा था कि देश में और भी काबिल लोग हैं।आर्मी चीफ बाजवा ने हाल ही में ऑर्डनेंस फैक्ट्री का दौरा किया था। फैक्ट्री के सूत्रों ने बताया कि बाजवा का ये दौरा सुनियोजित था और पाकिस्तान की सबसे बड़ी हथियार फैक्ट्री में कई घंटे बिताए। उन्होंने फैक्ट्री में उत्पादन का डिटेल मुआयना किया।

इसे भी पढ़े : Video: फ्रांस में पीएम मोदी की अमेरिकी राष्‍ट्रपति ट्रंप को दो टूक, द्विपक्षीय मसला है कश्‍मीर, मध्‍यस्‍थता स्‍वीकार नहीं

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
After the removal of Article 370 from Jammu and Kashmir, India-Pakistan relations have become more bitter.Now the Pakistan Army has quietly increased its activity in Pakistan Occupied Kashmir.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X