• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

रामायण के वर्ल्ड रिकॉर्ड वाले दावे पर उठे सवाल, इस अमेरिकी शो के नाम है ये कीर्तिमान, दूरदर्शन ने दी सफाई

|

नई दिल्ली। देशव्यापी लॉकडाउन के बीच लोगों की डिमांड पर दूरदर्शन ने 80 के दशक के सबसे फेमस आध्यात्मिक टीवी शो रामायण का री-टेलीकास्ट किया। देशबंदी के कारण घरों में बंद लोगों ने रामायण को खूब पसंद किया जिसने टीआरपी के मामले में दूरदर्शन को सबसे बड़ा चैनल बना दिया। रामायण का अंतिम एपिसोड पिछले सप्ताह ही दिखाया गया है। इसके साथ ही दूरदर्शन ने बताया कि रामानंद सागर की रामायण ने दुनिया में सबसे ज्यादा देखे जाने वाले शो का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है, जिस पर अब सवाल खड़े होने लगे हैं।

लॉकडाउन में दर्शक उठा रहे आध्यात्मिक शो का आनंद

लॉकडाउन में दर्शक उठा रहे आध्यात्मिक शो का आनंद

दरअसल, लॉकडाउन के बीच टीवी पर दर्शकों का मनोरंजन करने के लिए दूरदर्शन ने रामायण, महाभारत, श्री कृष्णा जैसे मशहूर टीवी शो का री-टेलीकास्ट किया है। दर्शक इसे खूब पसंद भी कर रहे हैं जिसके कारण डीडी नेशनल की टीआरपी आसमान पर है। हाल ही में रामायण का आखिरी एपिसोड टेलीकास्ट किया गया जिसके साथ ही दूरदर्शन ने दावा किया कि शो ने एक नया रिकॉर्ड कायम किया है।

दुनियाभर में 7.7 करोड़ लोगों ने देखा रामायण

दुनियाभर में 7.7 करोड़ लोगों ने देखा रामायण

दूरदर्शन के मुताबिक रामानंद सागर द्वारा निर्देशित रामायण अब दुनिया का सबसे ज्यादा देखे जाने वाले टीवी शो हो गया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक 16 अप्रैल को प्रकाशित किए गए एपिसोड को दुनियाभर में करीब 7.7 करोड़ लोगों ने देखा। लेकिन अब शो की व्यूअरशिप और वर्ल्ड रिकॉर्ड के दावे पर विवाद गरमाया हुआ है। हालांकि इस पर दूरदर्शन की तरफ से भी बयान सामने आया है।

दूरदर्शन के दावे को लेकर उठे सवाल

दूरदर्शन के दावे को लेकर उठे सवाल

रामायण के साथ जुड़े इस विश्व रिकॉर्ड के बाद एक तरफ जहां भारत की जनता गर्व महसूस कर रही थी वहीं, दूसरी ओर इस दावे को लेकर कई लोग सवाल भी खड़े कर रहे थे। इस मामले में जब प्रसार भारती के सीईओ शशि शेखर से पूछा गया कि किस बिनाह पर उन्होंने वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की बात कही, तो उन्होंने जवाब दिया कि हमें ये पता है कि टीवी रेटिंग्स वाले खेल के बाहर भी बहुत सारे लोगों ने ये शो देखा है। शशि शेखर ने आगे बताया, मोबाइल टीवी सर्विसेज, जिन पर डीडी के चैनल्स आते हैं, जैसे जियो टीवी और एमएक्स प्लेयर, उनके माध्यम से यह दावा किया गया है।

बहुत सारे परिवार एक साथ आए

बहुत सारे परिवार एक साथ आए

शशि शेखर ने कहा, अगर हम सभी आंकड़ों को जोड़कर देखें तो रामायण की व्यूअरशिप के बारे में पता चलता है। इसे लॉकडाउन के दौरान 200 मिलियिन यानी 20 करोड़ से ज्यादा दर्शकों द्वारा देखा गया। उन्होंने कहा, मैं रिकॉर्ड वगैरह के फेर में नहीं पड़ूंगा, लेकिन लॉकडाउन के बीच इस आध्यात्मिक शो को देखने के लिए बहुत सारे परिवार एक साथ आए। इस संकट की घड़ी में लोगों को सुरक्षित और घर में रखने के लिए ब्रॉडकास्टिंग सर्विस ने अपना काम काफी प्रभावी तरीके से किया।

ये है सारा विवाद

ये है सारा विवाद

दरअसल, लाइव मिंट के दावे के मुताबिक अमेरिकन सीरीज MASH का आखिरी एपिसोड दुनियाभर में 10 करोड़ 60 लाख दर्शकों ने देखा था जो 28 फरवरी 1983 को प्रसारित किया गया था। इस हिसाब से रामायण दुनिया का सबसे ज्यादा देखा जाने वाला शो नहीं है क्योंकि रामायण के 16 अप्रैल को प्रसारित एपिसोड को 7 करोड़ 70 लाख लोगों ने देखा था। लाइव मिंट के दावे के मुताबिक दूरदर्शन का दावा झूठा है।

रामायण के 'लक्ष्मण' ने बताया- बाहर सामान लेने जाने पर लोग सम्मान में पैर छूने लगते थे

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Not Ramayan MASH is the worlds most watched show questions raised on Doordarshan claim
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X