• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज, दो रिश्तेदार भी कोरोना पॉजिटिव

|

नई दिल्ली। दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज मामले में दिल्ली पुलिस ने तब्लीगी जमात के मुखिया मौलाना साद कांधलवी के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। मौलाना साद और अन्य मौलानाओं के खिलाफ दर्ज एफआईआर में गैर इरादतन हत्या की धारा को भी जोड़ दिया गया है। इससे पहले दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने मौलाना साद और अन्य के खिलाफ महामारी अधिनियम और आईपीसी की धारा 269, 270,271 व 120 बी के तहत मामला दर्ज किया था। ये सभी धाराएं जमानती धाराएं है। वहीं अब उनके खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर किया गया है। पुलिस, ने मौसाला साद के खिलाफ दर्ज की गई एफआईआर में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 304 जोड़ी गई है। जिसके बाद उनकी मुश्किल बढ़ सकती है।

    Coronavirus : Tablighi jamaat के मौलाना साद के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का Case दर्ज | वनइंडिया हिंदी

     Nizamuddin markaz Case: Tablighi Jamaat leader Maulana Saad booked for culpable homicide, Non-willful murder case after attendees die of covid-19

    क्राइम ब्रांच ने मौलाना साद समेत 17 लोगों को जांच में शामिल होने के लिए नोटिस भेजा था। इनमें से मौलाना साद समेत 11 ने खुद को क्वारंटाइन बताया था। क्वारंटाइम की सीया खत्म हो चुकी है, ऐसे में अब उसकी गिरफ्तारी का प्रयास किया जाएगा। इस नई धारा के जुड़ने के बाद अब मौलाना साद की मुश्किल बढ़ेगी। ये धारा हत्या के किसी भी तरह के मामले में दूसरी सबसे बड़ी धारा है।

    इस धारा के जुड़ने के बाद मौलाना साद को आजीवन कारावास की सजा दी जा सकती है। यह सजा 10 साल तक बढ़ाई भी जा सकती है। आपको बता दें कि 28 मार्च के बाद से मौलाना साद गायब है। इसके बाद उसने एक ऑडियो संदेश जारी कर कहा था कि वो क्वारंटीन में है, लेकिन अब उसकी समयसीया भी खत्म हो चुकी है।

    वहीं तबलीगी जमात के प्रमुख मौलाना साद के दो रिश्तेदार उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। दो संक्रमित व्यक्ति मौलाना साद के ससुराल के हैं। ये दोनों मरकज मे रुके थे। दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

    Lockdown में मिली गुड न्यूज: इन सरकारी कर्मचारियों की सैलरी में बढ़ोतरी, DA में 10% का इजाफा

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Nizamuddin markaz Case: Tablighi Jamaat leader Maulana Saad booked for culpable homicide, Non-willful murder case after attendees die of covid-19.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X