• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मंत्रालय में बदलाव की खबरों के बीच सिद्धू ने दिखाए बगावती तेवर, कहा- भरोसा टूटता है तो दरार दिखती है

|

चंडीगढ़। क्या पंजाब की कांग्रेस सरकार में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है? ये सवाल उस समय उठे जब पंजाब कैबिनेट की अहम बैठक में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू शामिल नहीं हुए। लोकसभा चुनाव के बाद ये पहली कैबिनेट बैठक थी, जिसकी अध्यक्षता पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह कर रहे थे। हालांकि इस बैठक में नवजोत सिंह सिद्धू का बगावती तेवर देखने को मिला। उन्होंने कहा कि सीएम अमरिंदर सिंह को मुझ पर भरोसा नहीं है। हार के लिए सिर्फ मैं जिम्मेदार नहीं हूं। भरोसा टूटता है तो दरार दिखती है। दरअसल, कैबिनेट बैठक में सिद्धू के नहीं पहुंचने पर कई तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं। ऐसा माना जा रहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से मतभेदों की वजह से सिद्धू कैबिनेट की बैठक से दूर रहे।

पंजाब कैबिनेट की बैठक में शामिल नहीं हुए नवजोत सिंह सिद्धू

पंजाब कैबिनेट की बैठक में शामिल नहीं हुए नवजोत सिंह सिद्धू

जानकारी के मुताबिक, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के बीच टकराव काफी समय से देखने को मिल रहा है। लोकसभा चुनाव के दौरान भी सीट बंटवारे को लेकर दोनों दिग्गजों के बीच विवाद सामने आया था। वहीं अब चुनाव समाप्त होने के बाद पंजाब कैबिनेट की बैठक में सिद्धू शामिल नहीं हुए हैं। यह दूसरी बार है जब सिद्धू, मुख्यमंत्री की ओर से बुलाई गई बैठक से गायब रहे। पिछले महीने भी सिद्धू उस बैठक में शामिल नहीं हुए थे जिसमें पंजाब सरकार के सभी विधायक, कैबिनेट मंत्री और नवनिर्वाचित सांसद मौजूद थे।

इसे भी पढ़ें:- गिरिराज पर नीतीश का पलटवार, ऐसे लोगों का कोई धर्म नहीं

सिद्धू बोले- सीएम अमरिंदर सिंह को मुझ पर भरोसा नहीं

दूसरी ओर जिस समय पंजाब कैबिनेट की बैठक चल रही थी, उसी समय नवजोत सिंह सिद्धू ने भी अपने आवास पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने हाल के चुनावों में शहरी क्षेत्रों में पार्टी के प्रदर्शन के बारे में अपनी उपलब्धियों की जानकारी दी। कांग्रेस के प्रदर्शन पर उन्होंने कहा, "सीएम अमरिंदर सिंह को मुझ पर भरोसा नहीं है। मुझे अमृतसर और तरन तारन की जिम्मेदारी दी गई थी, दोनों ही जगह पार्टी ने अच्छा प्रदर्शन किया और जीत दर्ज की।"

'मेरे विभाग को निशाना बनाया जा रहा, मैं पंजाब के लोगों के प्रति जवाबदेह'

नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, "यह एक सामूहिक जिम्मेदारी है। किसी के पास चीजों को सही परिप्रेक्ष्य में देखने की क्षमता होनी चाहिए। मेरे विभाग को निशाना बनाया जा रहा है। मेरा फायदा नहीं उठाना चाहिए। मैं एक कलाकार रहा हूं। मैं पंजाब के लोगों के प्रति जवाबदेह हूं। मुझे हल्के में नहीं लिया जा सकता क्योंकि मैंने अपनी पूरी जिंदगी परफॉर्म किया, फिर चाहे क्रिकेट हो, शोबिज हो या फिर राजनीति हो।" सिद्धू ने बताया कि उन्होंने ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में पार्टी के प्रदर्शन का विस्तृत विश्लेषण किया है।

सिद्धू बोले- हार के लिए सिर्फ मैं जिम्मेदार नहीं

सिद्धू बोले- हार के लिए सिर्फ मैं जिम्मेदार नहीं

सिद्धू ने ये बातें ऐसे समय में कही हैं जब ऐसी खबरें हैं कि पंजाब की अमरिंदर सिंह सरकार जल्द ही कैबिनेट में कुछ फेरबदल कर सकती है। सीएम अमरिंदर सिंह ने इस बात के संकेत दिए हैं कि इसमें नवजोत सिद्धू के मौजूदा पोर्टफोलियों में कुछ बदलाव किया जा सकता है। इससे पहले, सीएम अमरिंदर सिंह ने कहा था कि एक मंत्री के तौर पर सिद्धू के प्रदर्शन की समीक्षा करने की आवश्यकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि वो 'अपने विभाग को संभालने में सक्षम नहीं हैं।' उन्होंने सिद्धू के पाकिस्तान की यात्रा पर जाने और पड़ोसी मुल्क के सेना प्रमुख को गले लगाने पर भी सवाल खड़े किए थे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Navjot Singh Sidhu stays away from Punjab cabinet meeting chaired by CM Captain Amarinder Singh.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X