• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

CAA-NRC: मायावती ने स्वीकार की अमित शाह की चुनौती, बोलीं- किसी भी मंच पर बहस के लिए BSP तैयार

|

नई दिल्ली। देश में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और भारतीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) पर मचे घमासान के बीच बहुजन समाजवादी पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने गृह मंत्री अमित शाह के बहस की चुनौती को स्वीकार कर लिया है। बुधवार को मायावती ने कहा कि बीएसपी एनआरसी पर किसी भी मंच पर सरकार से बहस करने के लिए तैयार है। गौरतलब है कि बीएसपी सुप्रीमो का यह बयान गृह मंत्री अमित शाह द्वारा बहस के लिए विपक्षी नेताओं को खुली चुनौती देने के ठीक एक दिन बाद आया है।

Mayawati accepts Amit Shah challenge says BSP ready for debate on any platform

मंगलवार को गृह मंत्री अमित शाह ने उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक रैली को संबोधित किया जहां उन्होंने सीएए और एनआरसी पर विपक्षी दलों को बहस के लिए खुली चुनौती दी। उन्होंने राहुल गांधी, अखिलेश यादव और ममता बनर्जी के साथ मायावती को विशेष रूप से बहस के लिए बुलाया था। अमित शाह के बयान के अगले दिन अब मायावती ने एनआरसी पर बहस के लिए केंद्र सरकार को चुनौती दी है। बुधवार को मायावती ने ट्वीट कर लिखा, आति-विवादित CAA/NRC/NPR के खिलाफ पूरे देश में खासकर युवा व महिलाओं के संगठित होकर संघर्ष व आन्दोलित हो जाने से परेशान केन्द्र सरकार द्वारा लखनऊ की रैली में विपक्ष को इस मुद्दे पर बहस करने की चुनौती को BSP किसी भी मंच पर व कहीं भी स्वीकार करने को तैयार है।

सीएए पर रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार
सुप्रीम कोर्ट में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ और समर्थन में 142 याचिकाएं दाखिल की गई हैं, जिसपर बुधवार को कोर्ट में अहम सुनवाई हुई। कोर्ट ने कहा कि अधिकतर याचिकाओं में एक जैसी ही बात है। हालांकि, कोर्ट ने कहा कि सभी याचिकाओं को सुना जाएगा और इसके बाद ही अदालत कोई फैसला सुनाएगी। चीफ जस्टिस ने कहा कि मुझे नहीं लगता है कि कोई भी प्रक्रिया वापस ली जा सकती है। उन्होंने कहा कि हम ऐसा आदेश लागू कर सकते हैं, जो मौजूदा स्थिति के अनुरूप हो, हम एकपक्षीय रोक नहीं लगा सकते हैं। सीजेआई ने वकीलों से असम और नॉर्थ ईस्ट से दाखिल याचिकाओं का आंकड़ा मांगा।

English summary
Mayawati accepts Amit Shah challenge says BSP ready for debate on any platform
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X