यादव थी महिला, ब्राह्मण बताकर लिया घर का काम, थाने पहुंचा मामला

By: गुणवंती परस्ते
Subscribe to Oneindia Hindi

पुणे। पुणे में एक अजब ही मामला सामने आया है, उच्च शिक्षा प्राप्त करने के बावजूद और उच्च पद पर विराजमान होने के बाद भी लोगों से जात-पात का मुद्दा नहीं छूटता! एक घटना में 80 वर्ष की महिला के खिलाफ इसलिए मामला दर्ज किया गया क्योंकि वो खुद को झूठे तरीके से एक ब्राह्मण बताकर धार्मिक विधी में खाना बनाने का काम कर रही थी। जब सच्चाई सामने आई कि महिला ब्राह्मण नहीं है तो महिला के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई गई।

Lady Officer fight from non brahmin Maid

मालकिन का आरोप है कि खुद को ब्राह्मण बताकर महिला ने इस झूठ से उनका धर्म भ्रष्ट किया है। ये शिकायत किसी और ने नहीं बल्कि पुणे के मौसम विभाग की पूर्व संचालिका डॉ. मेधा खोले ने सिंहगड़ पुलिस स्टेशन में दर्ज करवाई है। पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक डॉ. मेधा (50) ने पुणे के धायरी में रहनेवाली निर्मला यादव के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है। डॉ. मेधा खोले मौसम विभाग में उच्च पद पर कार्यरत हैं।

डॉ. खोले के घर में हर साल गणपति विराजमान किया जाता है, साथ ही माता-पिता की श्राद्ध विधी भी होती है। जिसके लिए खाना बनाने के लिए सिर्फ उनको ब्राह्मण महिला ही चाहिए होती है। मई 2016 में काम ढूंढते हुए निर्मला डॉ. खोले के घर गईं थीं और खुद को ब्राह्मण बातकर धार्मिक विधी में खाना बनाने का काम मांगा था। उसके कहने पर डॉ. खोले ने महिला के घर जाकर पूछताछ की और महिला को तुरंत काम पर रख लिया था।

Lady Officer fight from non brahmin Maid

महिला डॉ. खोले के घर में हर धार्मिक विधी में खाना बनाया करती थी, महिला ने 2016 में श्राद्ध के समय, सितंबर महीने में गौरी गणपति के समय और 2017 में भी गणपति और माता पिता के श्राद्ध के समय भगवान को भोग के रूप में चढ़ाए जाने वाला भोजन बनाया था। निर्मला ब्राह्मण नहीं है, इस बात की जानकारी डॉ. खोले के गुरू जी ने दी। काम पर लगने से पहले निर्मला ने अपना पूरा नाम निर्मला कुलकर्णी बताया था। जबकि निर्मला का असली नाम निर्मला यादव है।

ये बात पता चलते ही डॉ. मेधा खोले निर्मला के घर पूछताछ करने गई। तब निर्मला ने अपना सही नाम निर्मला यादव बताया। इस बात को लेकर दोनों में काफी बहस हुई और हाथापाई भी हुई। दोनों ने एक-दूसरे के खिलाफ पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई है। निर्मला की शिकायत के मुताबिक डॉ. मेधा खोले के खिलाफ मारपीट की शिकायत दर्ज करवाई है और निर्मला को उसके काम के पैसे नहीं देने का भी एक मामला दर्ज किया गया है।

Read more: थककर बाग में सो जाती है यूपी पुलिस, तभी तो भगवान भरोसे है इलाहाबाद!

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Lady Officer fight from non brahmin Maid
Please Wait while comments are loading...