• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर पर लोगों ने पुलिस पर किया पथराव, तीन गिरफ्तार

|

नई दिल्ली। दिल्ली-गुरुग्राम सीमा पर पालम विहार / बिजवासन के पास बुधवार को फैक्ट्री में काम करने वाले मजदूरों और पुलिस के बीच झड़प हो गई। औद्योगिक कामगार होने का दावा करने वाले सैकड़ों लोग बुधवार सुबह दिल्ली से गुरुग्राम की ओर जा रहे थे तभी पुलिस ने उन लोगों के दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर पर रोक दिया। जिसके बाद गुस्साए लोगों ने पत्थर बरसा दिए। इस मामले में पुलिस ने 50 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। जिसमें से पुलिस ने 3 लोगों को गिरफ्तार किया है।

industrial workers clash with Gurugram police, 3 arrested
    Lockdown: Delhi से नहीं मिली Gurugram में Entry तो लोगों ने Police पर किया पथराव | वनइंडिया हिंदी

    पालम विहार दिल्ली-गुरुग्राम बॉर्डर से बिलकुल सटा हुआ इलाका है। सुबह करीब 9 बजे बाहरी दिल्ली से सटे इलाके में 800 से 1000 लोग जमा हो गए। जब पुलिस ने उन्हें रोका तो इलाके का माहौल तनावपूर्ण हो गया। सभी मजदूरों का कहना था कि, वे उद्योग विहार की एक गारमेंट फैक्ट्री में काम करते हैं। लेकिन जब उनसे पुलिस ने आईडी मांगी तो वे दिखाने में असमर्थ रहे। जब पुलिस ने उन्हें गुरुग्राम में प्रवेश करने से रोका, तो भीड़ उग्र हो गई। उन्होंने गुरुग्राम पुलिस पर पथराव और ईंटें बरसाईं। इस घटना के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।

    एसएचओ पालम विहार दविंदर सिंह ने कहा सभी औद्योगिक श्रमिकों को वन टाइन औद्योगिक पास जारी किए गए हैं, जो उन्हें एक बार के लिए गुरुग्राम में प्रवेश करने की अनुमति देंगे। इसके बाद संबंधित कारखानों को उनके लिए आवास की व्यवस्था करनी होगी। लेकिन इन मजदूरों के पास ऐसा कोई पास नहीं था और जब रोका गया, तो वे हिंसक हो गए और हम पर हमला कर दिया। पथराव में पुलिस के जवानों को चोटे भी लग गई है।

    दिल्ली-गुरुग्राम के बीच रूटीन में आवाजाही कम करने के लिए गुरुग्राम के जिलाधीश अमित खत्री ने आदेश जारी कर रखा है कि गुरुग्राम में काम करने वाले गुरुग्राम में रहें और दिल्ली में काम करने वाले दिल्ली में रहें। आदेशानुसार यदि उद्यमी अपने श्रमिकों के लिए रहने का इंतजाम कर लें तो एक बार सीमा में प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी। लेकिन उद्यमी की ओर से ऐसी कोई व्यवस्था फिलहाल नहीं की गई है।

    उद्योग विहार इंडस्ट्रियल एसोसिएशन के एक पदाधिकारी ने कहा कि, कड़े एसओपी को देखते हुए, हमें सभी श्रमिकों के लिए आवास की व्यवस्था करने की आवश्यकता है। उद्योग के पास इसके लिए पर्याप्त संसाधन नहीं हैं और 100 प्रतिशत श्रमिकों को प्राप्त करने की अनुमति होने के बावजूद, उन्होंने गुरुग्राम में केवल 40 प्रतिशत के साथ शुरुआत की है।

    UP कांग्रेस चीफ अजय लल्लू को मिली जमानत, लखनऊ पुलिस ने फिर लिया हिरासत में

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    industrial workers clash with Gurugram police, 3 arrested
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X