अरुणाचल प्रदेश में आया बर्फीला तूफान, अंधेरे में इंडियन आर्मी ने बचाई 127 जिंदगियां

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

तवांग। अरुणाचल प्रदेश में बर्फीले तूफान ने जमकर कहर मचाया है और इस तूफान में 127 पर्यटक फंस गए थे। लेकिन इंडियन आर्मी ने सही समय पर आकर इन पर्यटकों की जान बचा ली। वहीं बुल्‍गारिया की एक पर्यटक की इस घटना में मौत हो गई है।

अरुणाचल प्रदेश में आया बर्फीला तूफान, अंधेरे में इंडियन आर्मी ने बचाई 127 जिंदगियां

अंधेरे में रेस्‍क्‍यू आपॅरेशन हुआ पूरा

अरुणाचल प्रदेश के तवांग में स्थित एतिहासिक सेला पास में आए तूफान में जो 127 पर्यटक फंसे थे, उनमें से पांच विदेशी थी। इंडियन आर्मी ने इन पर्यटकों को सुररिक्षत निकाल लिया। शनिवार को अरुणाचल प्रदेश में बर्फीला तूफान आया था। करीब 2 बजकर 45 मिनट पर आए इस तूफान के एक घंटे के अंदर ही इंडियन आर्मी की लोकल यूनिट एक्टिव हो गई थी। जो पांच विदेशी इस घटना में फंस गए थे उनमें जापान, न्‍यूजीलैंड और बुल्‍गारिया के नागरिक शामिल थे। एक आर्मी ऑफिसर की ओर से बताया गया कि शाम को करीब पांच बजे अंधेरा हो गया था और पूरे रेस्‍क्‍यू ऑपरेशन को अंधेरे में ही अंजाम दिया गया था। जब तक सभी 127 पर्यटकों को बाहर नहीं निकाल लिया गया तब तक इस ऑपरेशन को जारी रखा। एक आर्मी ऑफिसर की ओर से जानकारी दी गई कि बुल्‍गारिया की एक नागरिक फिसल कर गहरे नाले में जा गिरी। वह अपने आप आगे बढ़ने की कोशिश कर रही थी और इसी कोशिश में वह गिर गई। आधी रात को उसका शव बरामद कर लिया गया।

सड़कों पर बर्फ जमा

जिन पर्यटकों को बचाया गया उन्‍हें आर्मी के ट्राजिंट कैंपों में भेज गया था। सभी पर्यटकों को मेडिकल सहायता दी गई। बर्फीले तूफान ने अरुणाचल प्रदेश के वेस्‍ट कमांड जिले के अहिरगढ़, सेला और नुरांग पर इस बर्फीले तूफान का खासा

प्रभाव हुआ है। ये सभी स्‍थान तवांग से कट गए हैं। सड़क पर दो से तीन फीट तक बर्फ जमी हुई है और बॉर्डर रोड्स ऑर्गनाइजेशन की मदद से सड़क को सोमवार को ही ट्रैफिक के लिए खोला जा सका। रेस्‍क्‍यू ऑपरेशन को ब्‍लेजिंग स्‍वॉर्ड डिवीजन के ट्रूप्‍स की ओर से अंजाम दिया गया था।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Blizzard has hit Arunachal Pradesh and one Bulgarian woman has been died in the incident. However, Indian Army has saves 127 tourists.
Please Wait while comments are loading...