• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

लद्दाख में चीन के साथ जारी तनाव के बीच जवानों को मिले खास कपड़े -50 डिग्री में भी रह सकेंगे सुरक्षित

|

नई दिल्‍ली। भारतीय सेना ने पूर्वी लद्दाख में लाइन ऑफ एक्‍चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर चीन के साथ जारी टकराव के बीच जरूरी सामान को इकट्ठा कर लिया है। न्‍यूज एजेंसी एएनआई की तरफ से बताया गया है कि सेना के जवानों को लद्दाख की खून जमा देने वाली सर्दी से बचने के लिए कई लेयर्स वाले कपड़े भी मिल गए हैं। फॉरवर्ड लोकेशंस पर तैनात जवानों की सुरक्षा के लिए ये कपड़े काफी अहम हैं और इन्‍हें विशेषज्ञ बता रहे हैं। आर्मी ऑफिसर्स की मानें तो इन कपड़ों की वजह से न सिर्फ जवानों की मौसम में रक्षा हो सकेगी बल्कि इन्‍हें इस तरह से डिजाइन किया गया है कि दुश्‍मन की नजर जवानों पर नहीं जा सकेगी।

indian-army-ladakh-10.jpg

यह भी पढ़ें-पाकिस्‍तान की इस हरकत पर आया NSA डोवाल को गुस्‍सा

टेंट्स में जवानों को नहीं लग सकेगी सर्दी

जो कपड़े जवानों को मुहैया कराए गए हैं उन्‍हें कई प्रकार के उपकरणों से लैस किया गया है। जवान इन कपड़ों की मदद से आसानी से पहाड़ों पर चढ़ सकेंगे और साथ ही ऊंचाई वाले इलाकों में भी आसानी से चल पाएंगे। इन कपड़ों की पहली लेयर में पैंट और गहरे रंग की जैकेट है, दूसरी में हरे रंग की जैकट और एक पैंट हैं। इसी तरह से तीसरी लेयर में जवान को सफेद रंग की जैकेट पहननी होगी और इसके साथ ही खास प्रकार के जूते हैं। सेना की तरफ से बताया गया है कि हर जवान जो ऊंचाई वाली जगह पर तैनात है उसे 21 तरह के आइटम दिए गए हैं। इन आइटम्‍स में खास प्रकार के कपड़े और उपकरण मौजूद हैं। वहीं जवानों के रहने के लिए भी खास तरह के टेंट दिए गए हैं। इन टेंट्स के अंदर जवान -50 डिग्री तापमान में भी ठंड से बच सकेंगे। ये टेंट्स भी कई प्रकार की लेयर्स से बने हैं। टेंट्स को इस प्रकार से डिजाइन किया गया है कि इनमें इलेक्ट्रिीसिटी की जरूरतों को सोलर पैनल के जरिए पूरा किया जा सकेगा। पूर्वी लद्दाख सेक्‍टर में अब से कुछ दिनों बाद सर्दियों का मौसम शुरू हो जाएगा। लद्दाख में सर्दियां बहुत ही मुश्‍किल होती हैं और ऐसे में जो सैनिक फॉरवर्ड लोकेशंस पर तैनात हैं, उन्‍हें हर तरह का लॉजिस्टिक सपोर्ट मुहैया कराया जा रहा है।

    India-China LAC Tension: Pangong में भारत-चीन सैनिकों के बीच हुई थी गोलीबारी ? | वनइंडिया हिंदी

    LAC पर तैनात 50,000 जवान

    इस समय एलएसी पर भारत के 50,000 सैनिक तैनात हैं। सर्दियों में चीन की पीपुल्‍स लिब्रेशन आर्मी की तरफ से किसी भी तरह की भड़काऊ कार्रवाई से निबटने के लिए इतने जवानों को वहां पर तैनात रखा जाएगा। फॉरवर्ड लोकेशंस पर तैनात जवानों को सर्दियों के खास कपड़ों से लेकर राशन, आर्कटिक टेंट्स और पोर्टेबल हीटर्स के साथ जा रहा है। इंडियन एयरफोर्स के एयरक्राफ्ट और सेना के हेलीकॉप्‍टर्स लगातार लद्दाख के लिए उड़ान भर रहे हैं। रोजाना कार्गो प्‍लेन के जरिए हर जरूरी सामान सैनिकों के लिए पहुंचाया जा रहा है। लद्दाख का रास्‍ता सर्दियों में बाकी देश से कट जाता है और ऐसे में सेना कोई भी रिस्‍क नहीं लेना चाहती है। मंगलवार को लद्दाख से सामने आईं तस्‍वीरों से पता लगता है कि सेना किस कदर इस जगह पर चीन का जवाब देने के लिए तैयार हो रही है। इंडियन आर्मी के पास लद्दाख में सबसे बड़ा ऑयल डिपो है और यह डिपो भी हर तरह से रेडी है। बड़े-बड़े ऑयल टैंकर्स को यहां पर देखा जा सकता है।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Indian Army jawans get multilayered clothing in Ladakh amid tension with China.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X