अर्थव्यवस्था की गिरावट पर प्रधानमंत्री मोदी को मिला विश्व बैंक का साथ

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi
India's Economy slowdown only temporary it will pick up fast says World Bank । वनइंडिया हिंदी

नई दिल्ली। भारत की अर्थव्यवस्था की रफ्तार पर जिस तरह से लगाम लगी है और जीडीपी बुरी तरह से चरमाई है उसके बाद देशभर में मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों की आलोचना हो रही है। लेकिन विश्व बैंक ने भारत की अर्थव्यवस्था पर बड़ा बयान दिया है। विश्व बैंक का कहना है कि आनेन वाले महीनों में फिर से पटरी पर आ जाएगी और एक बार फिर से रफ्तार पकड़ लेगी। विश्व बैंक के अध्यक्ष जिम योंग किम ने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था में सुस्ती अस्थाई है, ऐसा जीएसटी की वजह से है, जीएसटी आने वाले समय में बड़ा सकारात्मक बदलाव लाएगी और भारतीय अर्थव्यवस्था को बड़ा लाभ पहुंचाएगी।

Narendra Modi get supports from World Bank

योंग ने कहा कि पहले क्वार्टर में इसका ऐलान किया गया था, लेकिन हमे लगता है कि अर्थव्यवस्था में गिरावट अस्थाई तौर पर जीएसटी की वजह से है जोकि भारत की अर्थव्यवस्था को बड़ा लाभ पहुंचाएगी। विश्व बैंक के अध्यक्ष ने ये सारी बात अंतर्राष्ट्रीय मोनेटरी फंड की वार्षिक बैठक से पहले पत्रकारों से बात करने के दौरान कही। विश्व बैंक की ओर से होने वाली इस बैठक में भारत की अगुवाई देश के वित्त मंत्री अरुण जेटली करेगे, उनकी अगुवाई में भारतीय दल अगले हफ्ते विश्व बैंक की बैठक में शिरकत करेगा।

दरअसल किम से जब सवाल पूछा गया कि भारत की अर्थव्यवस्था में गिरावट आई है और इसके लिए विपक्ष और तमाम आर्थिक मामलों के जानकारों ने जीएसटी और नोटबंदी को जिम्मेदार ठहराया है जिसके चलते भारत की जीडीपी 5.7 पर पहुंच गई है। जोकि पहले क्वार्टर में 6.1 थी और पिछले वर्ष इसी क्वार्टर में 7.9 थी, इस सवाल के जवाब में में किम ने कहा कि इस स्थिति से भारत बहुत जल्दी उबर जाएगा और एक बार फिर से भारत की जीडीपी पटरी पर आ जाएगी। उन्होंने कहा कि हम करीब से स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं। प्रधानमत्री मोदी स्थिति को बेहतर बनाने के लिए काम कर रहे हैं, लिहाजा हमे लगता है कि ये सारे कदम स्थिति को बेहतर करने की ओर ले जा रहे हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The World Bank says that in the coming months, it will be again on track and once again it will catch the momentum.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.