पाक की राजनीति में गंदी बात, पैसों का हिसाब मांगा तो लगाए अश्‍लील मैसेज के आरोप

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। पाकिस्तान की राजनीति में मौजूदा समय एक दूसरे पर आरोप और प्रत्यारोप कर चल रहा है। जिस तरह से नवाज शरीफ को सुप्रीम कोर्ट ने पनामा मामले में दोषी करार देते हुए उन्हें पीएम पद के लिए अयोग्य करार दिया उसके बाद अब नया पाकिस्तान के दिग्गज नेता इमरान खान भी विवादों में आ गया है। इमरान खान पर आरोप लगा है कि उन्होंने अपनी ही पार्टी की नेता ने अश्लील मैसेज भेजने का आरोप लगाया है।

पाक की राजनीति में गंदी बात, पैसों का हिसाब मांगा तो लगाए अश्‍लील मैसेज के आरोप

चंदे का हिसाब मांगा गया था

इमरान खान की अपनी ही पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) की एमएनए आयशा गुलालई ने उनपर अश्लील मैसेज भेजने का आरोप लगाते हुए पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। हालांकि यहां गौर करने वाली बात है कि आयशा ने यह गंभीर आरोप इमरान खान पर ऐसे समय पर लगाया है जब पार्टी ने उनसे चंदे का हिसाब मांगा देने को कहा है।

पहले ही पार्टी छोड़ने का बना लिया था मन

सूत्रों का कहना है कि आएशा ने पार्टी को छोड़ने का पहले ही मन बना लिया था और उन्होंने चंदे का हिसाब देने से बचने के लिए इमरान खान के खिलाफ इस तरह के निराधार आरोप लगाए हैं। दरअसल आयशा पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ना चाहती थीं लेकिन जब इमरान खान ने उनकी काबीलियत पर सवाल उठाते हुए उन्हें टिकट देने से इनकार कर दिया तो यह बात उनके गले से नीचे नहीं उतरी।

इमरान खान पर लगाए आरोप

एक सूत्र ने यह भी बताया की पिछले एक साल से आयशा दुबई में पीटीआई के लिए चंदा इकट्ठा करने का काम कर रही थीं लेकिन जब पार्टी के मुखिया इमरान खान ने उनसे चंदे का हिसाब मांगा तो वह गुस्से से लाल हो गईं। पता लगा है कि आयशा ने पार्टी को छोड़ने का फैसला विरोधी पार्टी पीएमएल-एन के वरिष्ठ नेता आमिर मुकम से पेशावर के गवर्नर हाउस में मुलाकात करने के बाद ही ले लिया था। इस मुलाकात में आमिर मुकम ने उनको अपनी पार्टी में आने का न्योता दिया था।

कोर्ट से लगाई इमरान खान के खिलाफ गुहार

आएशा ने एक प्रेस कांफ्रेंस बुलाकर इमरान खान की ईमानदारी पर भी सवाल उठाएं हैं। उन्होंने कहा कि खैबर पख्तुंवा के पीटीआई से चुने गए मुख्यमंत्री परवेज खटक पर अपने भाई-भतीजों को सरकारी नौकरी दिलाने का आरोप है और इसपर इमरान खान खामोश हैं। उन्होंने पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट से मांग की है कि इमरान खान की बर्खास्तगी के लिए चल रहे एक मुकदमे में इन बातों पर भी ध्यान दिया जाना चाहिए। हालांकि जब इमरान खान से आएशा के इन आरोपों के बारे में सफाई मांगी गई तो उन्होंने मुस्कराते हुए कहा वे आयशा को आज तक इतने इमानदार कैसे लगा करते थे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Imran Khan's party leader Ayesha Gulalai alleges him of vulgar messages when she was asked to disclose the details of party funding.
Please Wait while comments are loading...