• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Bank Scam: मुझे जेल जाने का अनुभव नहीं, अगर कोई भेजना चाहता है तो मुझे खुशी होगी : शरद पवार

|

मुंबई। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मंगलवार को राकांपा प्रमुख शरद पवार के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है, जिस पर प्रतिक्रिया देते हुए शरद पवार ने बड़ी बात कही है, मीडिया से बात करते हुए देश के नामी नेताओं में शामिल पवार ने कहा कि उन्हें अब तक जेल जाने का अनुभव नहीं रहा लेकिन अगर कोई उन्हें जेल भेजना चाहता है, तो वे इसका स्वागत करते हैं और सच कहूं तो मुझे इससे खुशी होगी।

    Sharad Pawar पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार !, ED ने किया Money Laundering का केस दर्ज | वनइंडिया हिंदी
    'जेल जाने में मुझे कोई दिक्कत नहीं उल्टा मुझे तो खुशी होगी'

    'जेल जाने में मुझे कोई दिक्कत नहीं उल्टा मुझे तो खुशी होगी'

    पवार ने आगे कहा कि मैं जांच एजेंसियों को धन्यवाद देता हूं, क्योंकि उन्होंने ऐसे बैंक से संबंधित एक मामले में मेरा नाम शामिल किया है, जिसका मैं सदस्य भी नहीं हूं तो मैं कैसे इसके निर्णयों में शामिल हो सकता हूं, अगर उन्होंने मेरे खिलाफ भी मामला दर्ज किया है, तो इसका स्वागत करता हूं।

    यह पढ़ें: Dadasaheb Phalke Award: जानिए विजेता को क्या-क्या मिलता है?

    25 हजार करोड़ रुपए का है घोटाला

    25 हजार करोड़ रुपए का है घोटाला

    आपको बता दें कि प्रवर्तन निदेशालय ने एनसीपी प्रमुख शरद पवार और उनके भतीजे अजीत पवार के समेत 70 लोगों को महाराष्ट्र स्टेट कार्पोरेशन बैंक से जुड़े एक मामले में आरोपी बनाया गया है। ये घोटाला 25 हजार करोड़ रुपए का बताया जा रहा है।

    क्या है पूरा मामला?

    क्या है पूरा मामला?

    शिकायत में दावा किया गया है कि साल 2007 से 2011 के बीच आरोपियों की मिलीभगत से बैंक को करोड़ों रुपये का नुकसान होने का आरोप है। आरोपियों में 34 जिलों के विभिन्न बैंक अधिकारी शामिल हैं। ईडी के मुताबिक मुंबई हाईकोर्ट ने इस मामले में पहले एफआईआर दर्ज करने का आदेश जारी किया था, इसके बाद ईडी ने यह केस दर्ज किया है। ईडी के मुताबिक, इस स्कैम में कार्पोरेटिव बैंकों के कई मैनेजर भी शामिल थे।

    सामाजिक कार्यकर्ता सुरेंद्र अरोड़ा ने की थी शिकायत

    सामाजिक कार्यकर्ता सुरेंद्र अरोड़ा ने की थी शिकायत

    सामाजिक कार्यकर्ता सुरेंद्र अरोड़ा ने इस मुद्दे को लेकर पहले पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा में साल 2015 और 29 जनवरी 2018 को शिकायत की थी। इसके बाद वकील एसबी तलेकर के माध्यम से मामले को लेकर एफआईआर दर्ज किए जाने का निर्देश देने की मांग करते हुए हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी।

    यह पढ़ें: Dadasaheb Phalke Award Winnner List: अमिताभ से पहले ये सम्मान इन हस्तियों को मिल चुका है?

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Opposition politician Sharad Pawar, named in a money-laundering case last evening, said today that he would be "pleased" to go to jail as he had never experienced it.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X