• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

गुरमेहर विवादः रिजिजू ने शेयर किया वीडियो, कहा-दर्द समंदर से भी ज्यादा गहरा

|

नई दिल्ली। गुरमेहर कौर... के नाम पर सोशल मीडिया पर छिड़ा विवाद बंद होने का नाम ही नहीं ले रहा है। देशभक्ति बनाम देशद्रोह की इस जंग में जहां सेलिब्रेटियों और नेताओं ने अपने-अपने विचार लोगों के सामने रखे हैं, वहीं इस बीच केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने एक वीडियो शेयर करके इस बहस को और चोखा कर दिया है।

गुरमेहर कौर के पक्ष में उतरे गौतम गंभीर, सहवाग के मजाक को बताया घिनौना

ये वीडियो एक आर्मी जवान का

ये वीडियो एक आर्मी जवान का है, जिसमें एक जवान ने अपना दर्द बयान करते हुए कह रहा है कि दुख सरहद पर गोलियां खाने से नहीं होता, दुख तब होता है जब जेएनयू में संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु के लिए देशविरोधी नारेबाजी लगते हैं। दुख आतंकवादियों से लड़ने में नहीं होता, दुख तब होता है जब देश में लोग आतंकवादियो के मरने का शोक मनाते हैं।

दर्द समंदर से भी ज्यादा गहरा

दर्द समंदर से भी ज्यादा गहरा

रिजिजू ने वीडियो शेयर करते हुए ट्विटर पर लिखा- दर्द समंदर से भी ज्यादा गहरा हो जाता है। दुख की बात है कि हमारे जवानों को भी भारी दिल से कहना पड़ता है। मालूम हो कि पाकिस्तान और अपने पिता की शहादत को लेकर दिए बयान पर रिजिजू गुरमेहर पर तंज कसते हुए कहा था कि इस लड़की का दिमाग कौन खराब कौन रहा है और एक बार फिर से जवान के वीडियो के जरिए डीयू विवाद पर देश के विरोध में बात करने वालों को आड़े हाथ लिया है।

क्या है मसला?

क्या है मसला?

आपको बता दें कि ये पूरा विवाद तब पनपा जब जब डीयू के रामजस कॉलेज में एक सेमिनार का आयोजन हुआ जिसमें जेएनयू के छात्र उमर खालिद और शेहला राशिद को कॉलेज की लिटरेरी सोसायटी ने हिस्सा लेने के लिए बुलाया था। उमर खालिद पर जेएनयू में देश विरोधी नारे लगाने का आरोप है जिसके खिलाफ एबीवीपी ने विरोध करना शुरू कर दिया।

उमर खालिद और शेहला राशिद का आमंत्रण रद्द

उमर खालिद और शेहला राशिद का आमंत्रण रद्द

हंगामा बढ़ने पर रामजस कॉलेज ने उमर खालिद और शेहला राशिद का आमंत्रण रद्द कर दिया। जिसको लेकर लेफ्ट विचारधारा के छात्र संगठन आईसा ने विरोध मार्च निकाला। जिसमें एबीवीपी और आईसा समर्थकों के झड़प हुई।

कैप्टन मनदीप सिंह की बेटी और डीयू की छात्रा गुरमेहर कौर

कैप्टन मनदीप सिंह की बेटी और डीयू की छात्रा गुरमेहर कौर

इसी विवाद के बीच 1999 की करगिल लड़ाई में शहीद कैप्टन मनदीप सिंह की बेटी और डीयू की छात्रा गुरमेहर कौर ने सोशल मीडिया पर एक मुहिम शुरू की, जिसमें गुरमेहर ने लिखा कि वे वामपंथी नहीं हैं, लेकिन सहमत होने पर ही एबीवीपी का समर्थन करेंगी, मैं एबीवीपी को नकारती हूं क्योंकि वो भीड़ तंत्र और संविधान की तरफ से मिली मौलिक आजादी के खिलाफ है। फिलहाल बवाल बढ़ने पर गुरमेहर ने खुद को अभियान से अलग कर लिया है।

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
During Gurmehar Row, Minister of State for Home Affairs, Kiren Rijiju went on shared an old video, saying that the pain ran deeper than oceans when the jawans are forced to speak with a heavy heart.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more