• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्‍ली का परेवज 18 वर्ष से कर रहा था देश के लिए जासूसी, 17बार गया पाकिस्‍तान

|

जयपुर। राजस्‍थान पुलिस ने 42 वर्ष के एक ऐसे शख्‍स को गिरफ्तार किया है जो पिछले डेढ़ दशक से ज्‍यादा समय से पाकिस्‍तान के लिए जासूसी का काम कर रहा था। यह व्‍यक्ति राजधानी दिल्‍ली का रहने वाला है और सोमवार को इसे राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने गिरफ्तार किया है। यह व्‍यक्ति पाक की इंटेलीजेंस एजेंसी आईएसआई के लिए देश के राज की जासूसी को अंजाम दे रहा था। इसके लिए इसने सेना में सेंध लगाई।

isi-pakistan

2017 से हिरासत में है परवेज

दिल्‍ली के 42 वर्ष के मोहम्‍मद परवेज को एनआईए ने देश विरोधी गतिविधियों के चलते गिरफ्तार किया। परवेज साल 2017 से हिरासत में है। सोमवार को उसे पूछताछ के लिए जयपुर लाया गया था। इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। एडीजी (इंटेलीजेंस) उमेश मिश्रा की ओर से यह जानकारी दी गई है। परवेज ने इंडियन आर्मी के कई सैनिकों को हनी ट्रैप किया। वह फेक आईडी बनाकर सैनकिों से संपर्क करता था। इसके बाद वह उनसे गोपनीय और रणनीतिक तौर पर अहम सूचनाएं हासिल करता था। परवेज इन सूचनाओं को आईएसआई को भेजता था औा इसके बदले उसे आर्थिक मदद मिलती थी। पूछताछ के दौरान परवेज ने बताया कि वह आईएसआई में अपने हैंडलर्स के संपर्क में था।

आईएसआई करती थी आर्थिक मदद

एक ऑफिसर की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक परवेज पिछले 18 वर्षों में 17 बार पाकिस्‍तान जा चुका था। आईएसआई परवेज को गोपनीय सूचनाएं देने पर सभी जरूरी मदद मुहैया करताी थी। परवेज को फोटो पर एक सिम कार्ड मिला था और आईडी की कॉपी मिली थी। यह कॉपी उसे इस भरोसे पर दी गई थी कि दिल्‍ली स्थित पाकिस्‍तान हाई कमीशन में वीजा औपचारिकताओं को पूरा किया जाएगा। उसने अपने हैंडलर्स के साथ कॉन्‍टेक्‍ट में रहने के लिए नंबरों को एक्टिवेट कराया। परवेज को जयपुर कोर्ट में पेश किया गया और यहां से उसे चार दिनों के लिए पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है। यह भी पढ़ें-शोपियां में बगीचे में रह रहे थे आतंकी, सेना ने नष्‍ट किया ठिकाना

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
42-year-old man from Delhi on Monday for allegedly spying for Pakistan's spy agency Inter-Services Intelligence or ISI.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X