• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

गौतम ने कसा केजरीवाल पर गंभीर तंज, कहा -'CM नहीं लेंगे जिम्मेदारी, बिना जरूरत घर से ना निकलें'

|

नई दिल्ली। राजधानी में कोरोना वायरस का कहर जारी है, हालात दिनों दिन बिगड़ते ही जा रहे हैं, दिल्ली में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों पर दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा है कि दिल्‍ली देश की कोरोना कैपिटल बनने की राह पर तेजी से अग्रसर है , जो कि चिंता का विषय है, जिसके बाद पू्र्व क्रिकेटर और भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने केजरीवाल सरकार पर जमकर निशाना साधा है, उन्होंने इस सिलसिलें मे एक ट्वीट किया है।

    Coronavirus : Kejriwal Government को Supreme Court की फटकार, पूछे ताबड़तोड़ ये सवाल | वनइंडिया हिंदी
    'सीएम नहीं लेंगे जिम्मेदारी, बिना जरूरत घर से ना निकलें'

    'सीएम नहीं लेंगे जिम्मेदारी, बिना जरूरत घर से ना निकलें'

    अपने ट्वीट में गौतम गंभीर ने लिखा है कि सावधान! विज्ञापन अभियान फेल हो गया है! केंद्र, पड़ोसी राज्यों, अस्पतालों, परीक्षण और ऐप को दोषी ठहराया गया है, जबकि आगे सुप्रीम कोर्ट को दोषी ठहराया जाएगा, जरूरी हो तो ही घर से निकलें, दिल्‍ली के सीएम जिम्मेदारी नहीं लेंगे।'

    यह पढ़ें:आगरा में 97 साल के बुजुर्ग ने जीती कोरोना वायरस से जंग, डॉक्टरों ने कहा-सकारात्मक सोच ने बनाया विजयीयह पढ़ें:आगरा में 97 साल के बुजुर्ग ने जीती कोरोना वायरस से जंग, डॉक्टरों ने कहा-सकारात्मक सोच ने बनाया विजयी

    दिल्ली में कोरोना विस्फोट, बढ़ते ही जा रहे हैं मरीज

    गौरतलब है कि दिल्ली में कोरोना वायरस के गुरुवार को एक दिन में रिकॉर्ड सबसे ज्यादा 1877 नए मरीज सामने आए है, यह पहली बार है कि जब दिल्ली में कोरोना वायरस के 1800 से ज्यादा मामले एक दिन में सामने आए हैं, जिसके बाद कोरोना संक्रमित मामलों कि लिस्ट में दिल्ली तीसरे नंबर पर पहुंच गया है, इस लिस्ट में महाराष्ट्र टॉप पर और तमिलनाडु दूसरे नंबर पर है,बता दें कि इससे पहले 3 जून को सबसे ज्यादा 1513 मामले सामने आए थे।

    दिल्ली सरकार और एमसीडी में विवाद

    दिल्ली सरकार और एमसीडी में विवाद

    बता दें दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों ने हर किसी को चिंता में डाल दिया है। दिल्ली सरकार और एमसीडी के कोरोना मृतकों के आंकड़ों में भी अंतर होने पर भी विवाद बना हुआ है, जहां एमसीडी का कहना है कि कोरोना वायरस से 2098 लोगों की मौत हुई है तो वहीं दिल्ली सरकार बताती है कि 1085 लोगों की मौत हुई है।

    दिल्ली हाई कोर्ट ने दिया ये आदेश

    दिल्ली हाई कोर्ट ने दिया ये आदेश

    दिल्ली हाई कोर्ट ने सभी निजी अस्पतालों को आदेश दिया है कि वह कोविड-19 का टेस्ट कर सकेंगे, कोर्ट ने कहा दिल्ली 'देश की कोरोना राजधानी बनने की ओर तेजी से अग्रसर है', इसलिए निजी अस्पताल लक्षण वालों के साथ-साथ बिना लक्षण वालों का भी कोविड-19 टेस्ट कर सकेंगे। जस्टिस हिमा कोहली और सुब्हमण्यम प्रसाद की बेंच ने कहा कि इस समय यह जरूरी है कि लैब की सुविधा वाले सभी निजी अस्पताल कोरोना वायरस का टेस्ट करें।

    देश में कोरोना वायरस का कहर थमता हुआ नजर नहीं आ रहा...

    देश में कोरोना वायरस का कहर थमता हुआ नजर नहीं आ रहा...

    गौरतलब है कि देश में कोरोना वायरस का कहर थमता हुआ नजर नहीं आ रहा है, शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने आंकड़े जारी करते हुए बताया कि देश में कोरोना वायरस के मरीजों की कुल संख्या 297535 हो गई है। इनमें से 10,956 मरीज पिछले महज 24 घंटों के भीतर सामने आए हैं। देश के अलग-अलग राज्यों में कोरोना वायरस के 147195 मरीज अभी तक ठीक हो चुके हैं और फिलहाल एक्टिव केस 141842 हैं।

    यह पढ़ें: US में भारतीय मूल के डॉक्टर का बड़ा कमाल, Covid-19 पेशेंट का किया लंग्स ट्रांसप्लांटयह पढ़ें: US में भारतीय मूल के डॉक्टर का बड़ा कमाल, Covid-19 पेशेंट का किया लंग्स ट्रांसप्लांट

    English summary
    BJP MP Gautam Gambhir lashed out at the Aam Aadmi Party government in Delhi over the coronavirus situation in the capital, Here is his Tweet, Please Have a Look.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X