बीमा राशि के लिए मौत का रचा षड़यंत्र, लाश दिखाने के लिए एक वेटर का किया कत्ल

By: गुणवंती परस्ते
Subscribe to Oneindia Hindi

नासिक। नासिक में चार करोड़ की बीमा राशि पाने के लिए खुद की मौत का षड़यंत्र रचा गया, दुर्घटना में मौत के बाद मिलने वाले पैसे की लालच में चार लोगों ने मिलकर ये षड़यंत्र रचा, साथ ही इस षड़यंत्र को रचने के लिए एक वेटर का भी कत्ल किया गया। जिसमें उसकी बॉडी को सबूत को तौर पर इस्तेमाल किया जा सकेगा, इसलिए उसकी लाश को त्र्यंबकेश्वर के पास तोरंगण घाट में फेंक दिया गया था। इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है।

बीमा राशि के लिए मौत का रचा षड़यंत्र, लाश दिखाने के लिए एक वेटर का किया कत्ल

सूचना मिली कि 9 जून 2017 को त्र्यंबकेश्वर-जव्हार मार्ग पर तोरंगण घाट में एक टूव्हीलर सवार की सड़क दुर्घटना में मौत हुई, गाड़ी की जांच के दौरान प्राप्त कागजातों के मुताबिक उसमें रामदास वाघ का नाम सामने आया था। वो चांदवड तहसील के तांगडी शिवार का रहनेवाला है। ऐसी जानकारी सामने आने के बाद पुलिस ने त्र्यंबक पुलिस स्टेशन में सड़क दुर्घटना का मामला दर्ज किया था। लेकिन पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में ये बात सामने आई कि मृत शख्स की गला दबाने और सिर पर वार करने से मौत हुई है। उसके बाद पुलिस ने अपनी जांच जारी रखी, जिसमें ये बात सामने आई कि मरने वाला शख्स रामदास नहीं बल्कि कोई दूसरा है।

दरअसल रामदास एक पॉलिसी एजेंट है और जमीनों की खरीद-फिरोख्त करता है। पिछले साल उसने कई कंपनियों का 4 करोड़ रुपया बीमा कराया था। जिसमें बीमा का पैसा हासिल करने के लिए उसने अपने तीन दोस्तों की मदद के जरिए हत्या का षड़यंत्र रचा। पुलिस की कड़ी पूछताछ में आरोपी ने बताया कि प्लान के मुताबिक उन्हें एक शख्स की लाश की जरूरत थी, चांदवड के एक होटल में वेटर का काम करनेवाले तमिलनाडू के मुबारक चांद को फिर उसने अपने जाल में फंसाकर धोखे से उसकी हत्या कर दी।

मुबारक चांद दो दिन पहले ही होटल से गायब हो गया था, दो दिन तक मुबारक उनके साथ ही घूम रहा था, फिर रामदास ने उसे अपने कपड़े पहनाकर घाट के पास ले गया। इसके बाद उसे बेहोशी की दवा खिलाकर उसकी गला दबाकर और सिर पर वार करके हत्या कर दी गई। उसका चेहरा न पहचाना जा सके इसलिए फोरव्हीलर उसके चेहरे पर चला दी गई। रामदास के नाम का लाइटबिल, पैन कार्ड बाइक में रखकर सभी आरोपी वहां से फरार हो गए। इस प्लान का मास्टर माइंड रामदास अभी भी फरार है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Conspiracy for his own death to claim Policy amount
Please Wait while comments are loading...