• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

छत्तीसगढ़: मंत्री के घर में कचरा फेंकने पर पुलिस ने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं पर किया लाठीचार्ज, सीएम ने दिए जांच के आदेश

|

बिलासपुर। नगरीय निकाय मंत्री अमर अग्रवाल के बंगले पर प्रदर्शन करने गए कांग्रेसी नेताओं को पुलिस ने जमकर पीटा। प्रदर्शन कर रहे कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को पहले गिरफ्तार किया गया। फिर उन पर पुलिस ने जमकर लाठीचार्ज कर उन्हें लहूलुहान कर दिया। कांग्रेस नेता अटल श्रीवास्तव को गंभीर चोटे आई हैं। बताया जा रहा है कि पुलिस कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को पीटने के लिए कांग्रेस भवन के अंदर तक घुस गई और वहां भी जमकर तोड़फोड़ किया है। घटना की जानकारी मिलने के बाद कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल भी घायलों से मिलने के लिए बिलासपुर रवाना हो गए है।

छत्तीसगढ़: मंत्री के घर में कचरा फेंकने पर पुलिस ने कांग्रेसी कार्यकर्ताओं पर किया लाठीचार्ज

पुलिस ने कांग्रेसियों पर किया लाठीचार्ज
बिलासपुर में कांग्रेस के कार्यकर्ता अटल श्रीवास्तव के नेतृत्व में अमर अग्रवाल के घर प्रदर्शन करने जाने वाले थे। इस बीच पुलिस ने उन्हें बीच में ही रोक लिया। इसके बाद कांग्रेसियों और पुलिस के बीच जमकर झड़प भी हुई। कांग्रेस के प्रदर्शन की उग्रता को भांपते हुए पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। इस लाठीचार्ज में अटल श्रीवास्तव समेत कई कार्यकर्ता गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। कांग्रेसी नेताओं पर पुलिस की बर्बरतापूर्ण कार्रवाई पर पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल ने कड़ा ऐतराज जताया है। बघेल ने हाईकोर्ट के सिटिंग जज की अध्यक्षता में न्यायिक जांच की मांग की है। उन्होंने कहा है कि इससे पहले छत्तीसगढ़ में इस तरह की घटना नहीं हुई हैं। पुलिस राजनीतिक दल के दफ्तर में घुसकर मारपीट कर रही है। इस घटना से कांग्रेस आक्रामक हो गई है।

पुलिस की नाकामी बनी घटना की मुख्य वजह
कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार हिंसा पर उतर आई है। शांति पूर्वक विरोध करने गए नेताओं को पुलिस ने बर्बरतापूर्वक पीटा है। चुनाव में जनता इसका जवाब देगी। घटना के बाद खबर है, पीसीसी चीफ भूपेश बघेल बिलासपुर रवाना हो गए हैं। उधर, बीजेपी नेता प्रवीण दूबे और राजेंद्र भंडारी ने बयान जारी कर कहा है कि पुलिस की नाकामी के कारण यह घटना हुई। पुलिस ने ठीक से इंतजाम नहीं किया। बीजेपी ने कहा कि कांग्रेस के इस अराजक व्यवहार के कारण ही जनता ने इन्हें शहर में पिछले बीस वर्षों से सत्ता से दूर रखा है क्योंकि उन्हें यह अच्छे से मालूम है कि यें अगर सत्ता में आ गए तो पूरे शहर में अराजकता फैल जाएगी। गुण्डे मवालियों तथा भू माफियाओं का राज हो जाएगा और शहर अशांत हो जाएगा।

होगी मिजिस्ट्रियल जांच
मंत्री अमर अग्रवाल के बंगले में कचरा फेंकने के बाद पुलिस द्वारा कांग्रेसियों पर लाठीचार्ज के मामले में मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कड़ी निंदा करते हुए मजिस्ट्रियल जांच करने के आदेश दिए हैं। सीएम ने कहा कि मंत्री के घर में कचरा फेंकना को उचित नहीं मानता। कांग्रेस भवन में जो घटना घटी वह भी उचित नहीं मानता। छत्तीसगढ़ शान्तिप्रिय राज्य है और यहां सभी राजनैतिक दलों का सम्मान है। मैं दोनों घटनाओं की निंदा करता हूं, मंत्री के घर कचरा फेंकना और कांग्रेस भवन में घटी घटना की मजिस्ट्रेटियल जांच की घोषणा करता हूं। जांच के बाद सारी सच्चाई सामने आएगी, जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। इधर, नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने मामले के आरोपी पुलिसकर्मियों पर हत्या का केस दर्ज करने की मांग की है।

ये भी पढ़ें- राजस्थान: मतदान के दौरान नहीं ले सकेंगे सेल्फी, गड़बड़ी होने पर भेजें वीडियो, होगी सख्त कार्रवाई

English summary
congress workers beaten by police during a protest against minister in bilaspur
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X