• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जिग्नेश मेवाणी को चीफ गेस्ट बनाया तो वार्षिकोत्सव हुआ रद्द, नाराज प्रिंसिपल ने दिया इस्तीफा

|

नई दिल्ली। अहमदाबाद के एच के आर्ट्स कॉलेज के प्रिंसिपल हेमंत कुमार शाह ने दलित नेता और निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी को कॉलेज के वार्षिक समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया था। जब विद्यार्थी परिषद के छात्रों ने इसका विरोध शुरू किया तो आनन-फानन में कॉलेज ट्रस्ट ने वार्षिकोत्सव ही रद्द कर दिया। समारोह की मंजूरी रद्द किए जाने के विरोध में अब कॉलेज प्रिंसिपल हेमंत कुमार शाह और वाइस प्रिंसिपल मोहनभाई परामर ने इस्तीफा दे दिया है।

 जिग्नेश मेवाणी अहमदाबाद की एचके आर्ट्स कॉलेज के छात्र रहे हैं

जिग्नेश मेवाणी अहमदाबाद की एचके आर्ट्स कॉलेज के छात्र रहे हैं

उत्तर गुजरात की वडगाम सीट पर कांग्रेस के समर्थन से विधायक चुने गए जिग्नेश मेवाणी अहमदाबाद की एचके आर्ट्स कॉलेज के छात्र रहे हैं। विधायक चुने जाने व सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में पहचान कायम होने के चलते कॉलेज प्रशासन ने उन्हें सोमवार को होने वाले वार्षिकोत्सव में बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया था। लेकिन कॉलेज के छात्र संघ समर्थक छात्रों ने कॉलेज प्रशासन के समक्ष विरोध जताते हुए कहा कि मेवाणी कॉलेज के समारोह में आए तो वे हंगामा करेंगे। जिसके बाद घबराए कॉलेज के संचालक ट्रस्ट ब्रम्हचारी वाडी ने कार्यक्रम रद्द कर दिया।

प्रिंसीपल ने कहा कि, आजादी का घोंटा जा रहा दम

प्रिंसीपल ने कहा कि, आजादी का घोंटा जा रहा दम

कार्यक्रम रद्द होने की जानकारी रविवार की देर शाम कॉलेज के प्रिंसिपल हेमंत शाह ने सोशल मीडिया के जरिए दी। उन्होंने सोमवार को ट्रस्ट को एक पत्र लिखकर उनके फैसले को संविधान के विचार, वाणी और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के खिलाफ बताते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया। शाह ने पत्र में लिखा है कि एक राजनीतिक संगठन के छात्र संगठन के दबाव में आकर ट्रस्ट ने अपना फैसला बदल लिया। शाह का आरोप है कि लोगों की विचार व अभिव्यक्ति की आजादी पर हमला है। उनका तर्क था कि पहले भी कॉलेज के समारोह में राजनीतिक लोगों को आमंत्रित किया जाता रहा है।

पीएम मोदी के सामने ही मंच पर बीजेपी के मंत्री ने महिला मंत्री के साथ की शर्मनाक हरकत, वायरल हुआ VIDEO

'जिग्नेश मेवाणी को भी अपनी बात कहने का पूरा अधिकार है'

शाह ने स्पष्ट कहा है कि उन्होंने कोई गलत फैसला नहीं किया, ट्रस्ट का फैसला संवैधानिक के मूल अधिकारों की हत्या करने के समान है। उन्होंने लिखा कि जिग्नेश मेवाणी को भी अपनी बात कहने का पूरा अधिकार है, इस तरह के अधिकार पर हमले के प्रयासों का सतत विरोध करता रहा हूं। वही इस मामले पर जिग्नेश मेवाणी ने कहा कि, बीजेपी के गुंडों द्वारा दी गई धमकियों के कारण एचके आटर्स कॉलेज, अहमदाबाद के न्यासियों ने उस वार्षिक समारोह को रद्द कर दिया, जहां मुझे मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था। बाबा साहेब (आंबेडकर) के जीवन और मिशन के बारे में बात करने जा रहा था। प्राचार्य हेमंत शाह को सलाम जिन्होंने नैतिक आधार पर इस्तीफा दे दिया।

मां से ED की पूछताछ पर भावुक हुए रॉबर्ट वाड्रा, फेसबुक पर लिखी पोस्ट

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
College Trust Cancels Jignesh Mevani Event; Principal Quits in Protest
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X