• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बंगाली को असम की पहली भाषा बनाने के अभियान पर मचा बवाल, कैंपन चलाने वालों के खिलाफ कई FIR

|

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल (West Bengal) के बुद्धिजीवियों का एक वर्ग बंगाली भाषा को असम (Assam) की पहली भाषा बनाने के लिए सोशल मीडिया पर 'चलो पलटई' (चलो बदलें) अभियान चला रहा है, जिसकी कई बंगाली संगठनों ने आलोचना की है, जबकि असम में इसका भारी विरोध शुरू हो गया है। ये कैंपेन ऐसे वक्त में शुरू किया गया है जब नैशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजंस (एनआरसी) के अपडेशन का काम जारी है।

Chalo Paltai campaign to make Bengali the first language of Assam, denounced by bengali org

एनआरसी के अपडेशन का काम इस साल 31 जुलाई तक फाइनल होने की उम्मीद जताई गई है। इस कैंपेन के खिलाफ पूरे असम में जगह-जगह विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है और लोगों ने पुलिस स्टेशनों में इस कैंपेन के खिलाफ केस दर्ज कराया है। असम पुलिस की इंटेलिजेंस विंग भी सोशल मीडिया पर चलाए जा रहे इस कैंपेन पर नजरें जमाए हुए है। एक अधिकारी ने बताया कि बंगाल के ही कुछ लोगों ने इस कैंपेन को शुरू किया है। उन्होंने बताया कि पूरे कैंपेन की निगरानी करने के साथ सोशल मीडिया और जमीनी हालात पर नजर रखी जा रही है।

ये भी पढ़ें: Eid-ul-Fitr 2019: देशभर में 'ईद' की धूम, राष्ट्रपति कोविंद ने दी देशवासियों को बधाई

अधिकारी ने कहा कि इस कैंपेन का मकसद यही है कि अगली जनगणना के दौरान हिंदू-मुस्लिम वाले कॉलम में लोग बंगाली लिखें। इस प्रकार से असम में बंगाली पहली भाषा बन जाएगी। बता दें कि अगली जनगणना 2021 तक होने की संभावना है। नाम ना छापने की शर्त पर इस अधिकारी ने बताया कि असम के सारे भाषाई अल्पसंख्यक संगठन सोशल मीडिया पर चलने वाले इस अभियान का विरोध कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें: यूपी में ट्रैफिक का नियम तोड़ने वालों को अब देना होगा दोगुना जुर्माना

असम में इस मामले को लेकर 3-4 एफआईआर दर्ज कराई गई है। पूरे मामले में असम बंगाली युवा छात्र फेडरेशन के प्रेसिडेंट कमल चौधरी का बयान भी आया। कमल चौधरी ने कहा कि वे असम में पैदा हुए हैं और उनका ना ही पश्चिम बंगाल से और ही बांग्लादेश से कोई लेनादेना है। उन्होंने कहा कि इस तरह का अभियान चलाने वाले बाढ़ जैसे असल मुद्दों के बारे में कभी बात भी नहीं करते हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Chalo Paltai campaign to make Bengali the first language of Assam, denounced by bengali org
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X