मुसलमानों पर हो रहे हमलों को लेकर बीजेपी के अंदर से उठी आवाज

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। पिछले कुछ दिनों में जिस तरह से गोसेवा के नाम पर लोगों की हत्या की गई और मुसलमानों को भीड़ द्वारा मारे जाने की खबर आई है, उसने भाजपा की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। भारतीय जनता पार्टी के अल्पसंख्यक मोर्चा के अध्यक्ष रशीद अंसारी ने कहा कि उनकी पार्टी मुसलमानों पर हो रहे हमलों को लेकर चिंतित है, हमें ऐसे प्रयास करने चाहिए ताकि लोगों को लगे कि सरकार उनकी परवाह करती है।

देना होगा सुरक्षित माहौल

अंसारी ने कहा कि मुस्लिम समाज को ऐसा माहौल देना होगा जहां वह खुद को सुरक्षित महसूस करे और उन्हें इस बात का एहसास हो कि सरकार उनकी परवाह करती है। भाजपा के वरिष्ठ नेता शाहनवाज हुसैन की ओर से ईद के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में अंसारी ने यह बात कही। अंसारी का यह बयान इसलिए भी अहम हो सकता है क्योंकि यह ऐसे समय पर आया है जब बल्लभगढ़ में मुस्लिम युवक को ट्रेन के भीतर विवाद के बाद मौत के घाट उतार दिया गया था।

पार्टी हर संप्रदाय के लिए चिंतित

वहीं जब अंसारी से यह पूछा गया कि आखिर क्यों इन तमाम हमलों पर भाजपा ने चुप्पी साध रखी है, तो उन्होंने कहा कि मैं इन हमलों को लेकर सिर्फ इसलिए चिंतित नहीं हूं कि मैं मुसलमान हूं, बल्कि मैं भारत का नागरिक हूं और इस पार्टी का सदस्य हूं, मेरी पार्टी इस तरह की हर घटना के लिए चिंतित हैं, फिर वह किसी भी धर्म या समुदाय से संबंधित हो। उन्होंने कहा कि कोई भी भाजपा की नियत पर शक नहीं कर सकता है। उन्होंने कहा कि ट्रेन में कुछ लोगों ने जिस तरह से युवक को मार दिया उसे सरकार की विफलता नहीं कहा जा सकता है।

बल्लभगढ़ की घटना को सरकार की विफलता नहीं

बल्लभगढ़ हादसे पर अंसारी ने कहा कि लोग यह कह सकते हैं कि यह घटना कानून और प्रशासन की विफलता है, इन लोगों की सुरक्षा की जानी चाहिए थी, इस बात पर भी सवाल उठाए जा सकते हैं कि क्यों इस घटना को रोका नहीं गया। उन्होंने कहा कि अगर 100 लोगों की भीड़ किसी को मारती है तो 3-4 पुलिसकर्मी कुछ नहीं कर सकते हैं, हालांकि यह सच है कि ये पुलिसकर्मी और लोगों को सतर्क कर सकते थे।

इसे भी पढ़ें- गुजरात चुनाव से पहले दलितों का समर्थन हासिल करने का RSS का मेगा प्लान

अल्पसंख्यकों की सुरक्षा के लिए पीएम मोदी ने भी कहा

अंसारी ने कहा कि कि भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की अप्रैल में भुवनेश्वर में हुई बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि अल्पसंख्यकों की सुरक्षा होनी चाहिए। हालांकि अंसारी ने राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की ओर से इफ्तार के कार्यक्रम से केंद्रीय मंत्रियों के दूर रहने पर कुछ कहने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि मुझे नहीं पता कि कितने लोगों को इस कार्यक्रम में न्योता दिया गया था, मंत्रियों को भी न्योता दिया गया होगा, लेकिन जिन्हें न्योता मिला वहीं बता सकते हैं कि ये लोग इस कार्कक्र में क्यों नहीं गए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
BJP minority morcha president says party is worried on the attacks on muslims. He says they must feel that government cares them.
Please Wait while comments are loading...