• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भाजपा नेता ने फारुख अब्दुल्ला के "चीन की मदद से अनुच्छेद 370 की बहाली'' वाले बयान पर दर्ज करवाई शिकायत

|

नई दिल्ली। दिल्ली भारतीय जनता पार्टी के नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने गुरुवार को पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई, जिसमें नेशनल कांफ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला के खिलाफ चीन की मदद से अनुच्छेद 370 की बहाली वाले उनके बयान के लिए एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई।

Farooq Abdullahs
    Gupkar Meeting: Farooq Abdullah ने Mehbooba Mufti के साथ गठबंधन का किया ऐलान | वनइंडिया हिंदी

    बता दें भाजपा ने सोमवार को दावा किया है कि जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने एक इंटरव्‍यू में कहा था कि उन्हें उम्मीद है कि अनुच्छेद 370, जो चीन के समर्थन से जम्मू और कश्मीर में बहाल किया जाएगा। फारूक अब्दुल्ला ने कहा था, ''जहां तक चीन का सवाल है मैंने तो कभी चीन के राष्ट्रपति को यहां बुलाया नहीं। हमारे वजीर-ए-आजम (प्रधानमंत्री) ने उसे गुजरात में बुलाया, उसे झूले पर भी बिठाया, उसे चेन्नई भी ले गए, वहां भी उसे खूब खिलाया, मगर उन्हें वह पंसद नहीं आया, और उन्होंने आर्टिकल 370 को लेकर कहा कि हमें यह कबूल नहीं है। और जब तक आप आर्टिकल 370 को बहाल नहीं करेंगे, हम रुकने वाले नहीं हैं, क्योंकि तुम्हारे पास अब यह खुल्ला मामला हो गया है। अल्लाह करे कि उनके इस जोर से हमारे लोगों को मदद मिले और अनुच्छेद 370 और 35A बहाल हो।''

    तजिंदर पाल सिंह बग्गा

    फारुख अब्दुल्‍ला के बयान ने एक विवाद खड़ा कर दिया है, लेकिन नेशनल कॉन्फ्रेंस ने मंगलवार को भाजपा के आरोप से इनकार किया। नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रवक्ता ने कहा, "हमारे राष्ट्रपति ने पिछले साल 5 अगस्त को संसद द्वारा अनुच्छेद 370 और 35-ए के निरस्तीकरण के बारे में लोगों के गुस्से को स्पष्ट किया, जैसा कि उन्होंने हाल ही के महीनों में किया है।" "उन्होंने जोर दिया कि जम्मू और कश्मीर में कोई भी इन परिवर्तनों को स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं था।"

    अब्दुल्ला

    हालांकि नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां) के प्रवक्ता ने इस आरोप से इंकार किया और कहा कि हमारे पार्टी अध्‍यक्ष फारुख अब्दुल्‍ला ने पिछले वर्ष पांच अगस्त को संसद द्वारा अनुच्छेद 370 और 35-ए के अधिकतर प्रावधानों को रद्द करने पर लोगों के गुस्से को उजागर किया था उनकी बातों का गलत मतबल लगाया जा रहा है। उन्होंने केवल ये कहा कि जम्मू-कश्मीर में कोई भी इन बदलावों को स्वीकार करने को तैयार नहीं है।'' लेकिन इस सफाई ने दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता तजिंदर पाल सिंह बग्गा को आश्वस्त नहीं किया है। यहीं कारण है कि दिल्ली के पुलिस आयुक्त के पास शिकायत दर्ज कराई है और अब्दुल्ला के खिलाफ एफआईआर की मांग की है।

    तजिंदर पाल सिंह बग्गा

    दिल्ली बीजेपी नेता ने अपने ट्विटर हैंडल पर शिकायत का विवरण साझा किया है। बग्गा ने अब्दुल्ला पर "देशद्रोह, राज्य के खिलाफ युद्ध छेड़ने, और भारत के संविधान और सरकार के खिलाफ घृणा और अशिष्टता भड़काने" का आरोप लगाया। शिकायत में कहा गया है कि नेकां नेता को "देशद्रोही कारणों" के कारण धारा 370 को निरस्त करने के बाद घर में नजरबंद रखा गया था। रिहा होने के बाद, अब्दुल्ला ने फिर से भारत और केंद्र सरकार के संविधान के खिलाफ जहर उगलना शुरू कर दिया। लेकिन इस बार, फारूक अब्दुल्ला ने चीन को उसी में शामिल करके अनुमेय और संवैधानिक सीमाओं से बहुत आगे निकल गए हैं, "बग्गा ने आरोप लगाया कि भाजपा नेता ने पूर्व जम्मू-कश्मीर के सीएम पर "संविधान और केंद्रीय सरकार के वर्चस्व को कमजोर करने" की कोशिश करने का आरोप लगाया।

    दर्दनाक: 74 वर्षीय आदमी को फ्रीजर में रखकर, परिवार करता रहा रात भर मरने का इंतजार

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    BJP leader files complaint against Farooq Abdullah's statement ‘restoration of Article 370 with China's help’ remark
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X